UP में SP और BJP के बीच शुरू हुआ आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला, जानें किसने क्या कहा

पा प्रमुख ने पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजीव राय के ठिकानों समेत अन्‍य सपा नेताओं के घरों में आयकर विभाग की छापेमारी पर आक्रोश प्रकट करते हुए कहा, ‘जैसे जैसे भाजपा को हार सताएगी, उत्‍तर प्रदेश में उनके नेताओं, मुख्यमंत्रियों और दिल्ली से आने वाले नेताओं की संख्या बढ़ जाएगी और इसमें कोई शक नहीं था कि पार्टी आयकर विभाग, प्रवर्तन निदेशालय, केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो और भी संस्थाओं का सहारा लेकर हमला करने का काम करेगी.’

अखिलेश ने कहा, मेरा फोन टेप कर रहे सीएम
योगी ने कहा, आईटी छापों से पीड़ा महसूस कर रही सपा

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है. अखिलेश यादव ने पीएम मोदी के नये जुमले UP+YOGI = बहुत हैं UPYOGI पर प्रहार करते हुये रविवार को इशारों इशारों में अनुपयोगी मुख्यमंत्री का तमगा दे दिया. उन्होंने कहा कि भाजपा विपक्षी नेताओं को धमकाने के लिए केंद्रीय संस्‍थाओं का सहारा ले रही है. उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार मेरा फोन टेप करा रही है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद टेप किये गए मेरे फोन की रिकॉर्डिंग सुनते हैं.

सपा मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में यादव ने योगी को अनुपयोगी मुख्यमंत्री और भाजपा सरकार को अनुपयोगी सरकार बताते हुए आरोप लगाया कि ‘हम सबके फोन सुने जा रहे हैं और अनुपयोगी मुख्‍यमंत्री खुद शाम को कुछ लोगों की रिकॉर्डिंग सुनते हैं.’

उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘आप लोग भी सावधान रहें अगर हमसे फोन पर बात करते हैं तो जरूर सावधान रहें.’

सपा प्रमुख ने पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजीव राय के ठिकानों समेत अन्‍य सपा नेताओं के घरों में आयकर विभाग की छापेमारी पर आक्रोश प्रकट करते हुए कहा, ‘जैसे जैसे भाजपा को हार सताएगी, उत्‍तर प्रदेश में उनके नेताओं, मुख्यमंत्रियों और दिल्ली से आने वाले नेताओं की संख्या बढ़ जाएगी और इसमें कोई शक नहीं था कि पार्टी आयकर विभाग, प्रवर्तन निदेशालय, केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो और भी संस्थाओं का सहारा लेकर हमला करने का काम करेगी.’

केंद्रीय संस्थाओं का सहारा लेकर सपा कार्यकर्ताओं के उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा, ‘अभी तक तो वर्तमान सरकार को हटाने के लिए इन संस्थाओं का इस्तेमाल किया जाता था लेकिन पहली बार देखने को मिल रहा है कि उत्‍तर प्रदेश में सपा की सरकार न बन जाए, इसके लिए इन संस्थाओं का इस्तेमाल किया जा रहा है.’

अखिलेश यादव ने कहा, ‘पूरा देश जानता है कि जहां-जहां भारतीय जनता पार्टी चुनाव हारने लगती है, इन संस्थाओं को आगे कर देती है.’ उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा भी केंद्रीय एजेंसियों का सहारा लेकर विपक्षी दलों को डराने के लिए कांग्रेस के रास्ते पर जा रही है.

सपा प्रमुख ने भाजपा और उसके सहयोगी निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल (निषाद) की शुक्रवार को हुई साझा रैली में आरक्षण की मांग को लेकर निषादों के हंगामे का जिक्र करते हुए कहा कि मंच पर जो हंगामा हुआ, निषाद समाज के साथ जो धोखा हुआ, वह केवल निषाद समाज नहीं बल्कि पिछड़े, अति पिछड़े, दलित और बड़ी संख्या में अगड़े और ब्राह्मणों के साथ इस अनुपयोगी सरकार ने किया है.

मुख्‍यमंत्री पर आरोपों की बौछार करते हुए सपा प्रमुख ने कहा कि उन्होंने लोकसभा चुनाव में जातिवादी मानसिकता के तहत सजातीय अधिकारियों के साथ मिलकर सपा को चुनाव हराया. पूर्व मुख्यमंत्री ने यह भी आरोप लगाया कि गोरखपुर में अनुपयोगी मुख्यमंत्री ने अपनी दुकानों पर बुलडोजर चलाया और उसका मुआवजा उठा लिया जबकि दुकानें सरकारी जमीन पर बनी थी.

अखिलेश यादव ने कहा कि देश में आपराधिक घटनाओं, अत्‍याचार, नफरत फैलाने, पुलिस हिरासत में होने वाली मौत, झूठे वायदों, आंकड़ा छिपाने और दूसरों के काम को अपना काम बताने में उत्‍तर प्रदेश नंबर वन हो गया है.

इसे भी पढ़ें:

भाजपा सरकार में ‘राम राम जपना, पराया माल अपना’ का काम हो रहा

सीएम योगी ने सपा प्रमुख के आरोपों पर क्या कहा

वहीं, सपा प्रमुख अखिलेश यादव के आरोपों पर जवाब देते हुये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को अपने मथुरा दौरे के दौरान कहा, “कल मैं देख रहा था कि जब इनकम टैक्स के छापे पड़ रहे थे, तो समाजवादी पार्टी को पीड़ा हो रही थी, तो मैंने एक व्यक्ति से पूछा कि यह सब क्यों हो रहा है, तो उन्होंने बोला कि चोर की दाढ़ी में तिनका, तो मैंने इसका मतलब पूछा, तो उस व्यक्ति ने कहा कि पांच साल में किसी व्यक्ति की संपत्ति 200 गुणा बढ़ जाएगी, ऐसा कोई सोच सकता है क्या? लेकिन समाजवादी पार्टी की सरकार में सब देखने को मिलता था.”

बता दें कि रविवार को आगामी विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मथुरा पहुंचकर जन विश्वास यात्रा का शुभारंभ किया. इसी दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने समाजवादी पार्टी और पिछली सरकार पर निशाना साधा.

सभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा, “पिछली सरकारों में क्या होता था इस धरती पर? कोसीकलां कोई नहीं भूला होगा. जवाहर बाग में क्या हुआ था? हमारी सरकार में एक भी दंगा नहीं हुआ. पिछले पौने पांच साल के दौरान प्रदेश में कोई दंगा नहीं हुआ, कोई पलायन नहीं हुआ. जो व्यापारी, जो प्रताड़ित हिंदू पिछली सरकारों में पेशेवर अपराधियों और माफिया द्वारा यहां से भगाए गए थे वे व्यापारी, वे हिंदू अपने घरों में आए हैं और शान से अपने घरों में रह रहे हैं. आज व्यापारियों और हिंदुओं का पलायन नहीं होता है. अब माफियाओं का पलायन होता है.”

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यूपी के शाहजहांपुर में गंगा एक्सप्रेस-वे की आधारशिला रखी थी. इस पर सीएम योगी ने रविवार को जनसभा के दौरान अपने भाषण में कहा, “गंगा एक्सप्रेस वे पर मोदी जी के वक्तव्य पर कुछ लोगों ने गलत ट्वीट किए, जिनको विकास अच्छा नहीं लगता. काशी जाने से पहले विपक्ष के लोग डरते थे. पहले टोपी पहनने की होड़ लगी रहती थी. पहले अयोध्या, काशी और मथुरा जाने की कोई हिम्मत नहीं कर सकता था.”

रविवार को गोवा मुक्ति दिवस था. इस पर सीएम योगी ने कहा, “गोवा मुक्ति दिवस तो है ही, आज के दिन ही 1925 में काकोरी में ब्रिटिश खजाना लूटकर ब्रिटिश सरकार को चुनौती दी थी. काकोर घटना के नायकों में राजेंद्रनाथ लाहिरी, प. रामप्रसाद बिस्मिल, ठाकुर रोशन सिंह व अशफाक उल्ला खां को फांसी की सजा सुनाई गई, जिनमें राजेंद्रनाथ लाहिरी को 2 दिन पहले ही फांसी दी गई थी.” वहीं, उन्होंने कहा, “हमारी पार्टी ने मुझे सोच समझकर ही वृंदावन भेजा है. डबल इंजन की सरकार आपको डबल डोज देने का कार्य कर रही है.”

इसे भी पढ़ें:

सपा में शामिल हुआ हरिशंकर तिवारी का परिवार, अखिलेश ने कहा, अब कोई नहीं हमारे मुकाबले

Leave a Reply

Your email address will not be published.

19 − eleven =

Related Articles

Back to top button