हरिजन सेवक संघ प्रतिनिधिमंडल खीरी पीड़ित परिवार से मिला


हरिजन सेवक संघ उत्तर प्रदेश का एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को लखीमपुर खीरी में उस दलित परिवार से मिला जिसकी दो बेटियों के साथ बलात्कार कर हत्या कर दी गयी थी.

दरिंदगी किसे कहते हैं, और भय का माहौल क्या होता है,इसका सजीव दृश्य लखीमपुर खीरी जिले के निघासन विकास खण्ड की लालपुर ग्राम सभा के कछियन पुरवा में स्वंय ही आभासित होता। जहाँ दलित परिवार की दो बेटियों को दिन दहाड़े उठाकर पड़ोस के खेत मे दरिंदगी की सारी हदें पार करके उन्हें, खैर के पेड़ में लटका दिया गया।
आज पीड़ित परिवार की मां से मिलने गया हरिजन सेवक संघ का प्रतिनिधि मण्डल इससे रूबरू ही नही हुआ, आत्मग्लानि से भर गया। आख़िर हमारी युवा पीढ़ी किस रास्ते पर जा रही है उसके लक्ष्य क्या, वह क्या करना चाहती है। प्रतिनिधि मण्डल का नेतृत्व कर रही संघ की प्रदेश अध्यक्ष सुश्री कुसुम जौहरी ने मृतक बेटियों की माँ से बात की और उन्हें सान्त्वना दी कि प्रदेश से लेकर दिल्ली तक हरिजन सेवक संघ आपके साथ है, वह आपकी बात को राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, या जिस भी फोरम में उठाने की आवश्यकता हुई, पुरजोर तरीके से उठायेंगे।
सुश्री कुसुम जौहरी ने मृतका बहनों की माँ को हरिजन सेवक संघ की ओर से 11000/- का चेक भेंट किया, सुश्री जौहरी ने अखिल भारतीय हरिजन सेवक संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री शंकर कुमार सान्याल से मृतका की माँ माया देवी के साथ वीडियो कॉल पर वार्ता भी कराई उन्होंने मृतका बहनों की माँ को सांत्वना दी कि संघ आपकी हर तरह से मदद करेगा, आप खुदको अकेला कतई न समझे हम सब आपके साथ हैं। केंद्रीय उपाध्यक्ष श्री नरेश यादव व लक्ष्मी दास ने भी अपनी संदेवना व्यक्त की।
प्रतिनिधि मंडल में अन्य लोगों से साथ श्री अजय कुमार चौबे,रमाकांत पाण्डेय,पुष्पेन्द्र सिंह,फिरदौस, नाजिर,धर्मेंद्र सिंह व देवेन्द्र पाण्डेय मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button