हिंसा, ज़ोर ज़बरदस्ती और जन समस्याओं पर 15 जुलाई को समाजवादी पार्टी का प्रदर्शन

(मीडिया स्वराज़ प्रतिनिधि)

ब्लाक प्रमुख चुनाव में योगी सरकार और भारतीय जनता पार्टी की हिंसा, ज़ोर ज़बरदस्ती और महंगाई, बेरोज़गारी आदि जन समस्याओं को लेकर विपक्षी समाजवादी पार्टी 15 जुलाई को तहसील मुख्यालयों पर धरना प्रदर्शन करेगी. 

एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार समाजवादी पार्टी अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सभी कार्यकर्ताओं नेताओं से प्रदर्शन को ज़ोरदार बनाने का निर्देश दिया है. 

विज्ञप्ति के अनुसार समाजवादी पार्टी के लोग 15 जुलाई 2021 को ब्लाक प्रमुख एवं जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनावों में भाजपा सरकार द्वारा की गई धांधली से लोकतंत्र की हत्या के विरोध में प्रदेश के सभी तहसील मुख्यालयों पर समाजवादी पार्टी प्रदर्शन कर राज्यपाल महामहिम के नाम सम्बोधित ज्ञापन देंगे।

     ज्ञापन में बढ़ती मंहगाई, बिगड़ती कानून व्यवस्था, नौजवानों की बेरोजगारी, किसानों के ऊपर थोपे जा रहे काला कृषि कानून, महिलाओं से दुर्व्यवहार , स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली, कार्यकर्ताओं पर फर्जी केस लगाने और भाजपा द्वारा सत्ता के दुरूपयोग तथा स्थानीय समस्याओं पर भी श्री राज्यपाल का ध्यान आकर्षित किया जाएगा। 

 समाजवादी पार्टी के प्रमुख प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने कहा है कि  इस कार्यक्रम में शारीरिक दूरी और कोविड नियमों का पालन अवश्य करने की अपेक्षा की गई है। 

महिलाओं का सम्मान सुरक्षित नहीं-अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार में महिलाओं का सम्मान सुरक्षित नहीं है। ब्लाक प्रमुख चुनाव में आधी आबादी के साथ भाजपाईयों का बर्ताव घिनौना और निंदनीय है। लखीमपुर के पसगवां ब्लाक में नामांकन के समय समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी श्रीमती ऋतु सिंह एवं उनकी प्रस्तावक अनीता यादव के साथ दुर्व्यवहार  किया गया और उनकी साड़ी खींची गयी। चीरहरण की यह घटना लोकतंत्र के इतिहास में काला अध्याय है।

      सिद्धार्थनगर, इटवा में ब्लाक प्रमुख पद की समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी श्रीमती सूर्यमती पाण्डेय के साथ पुलिस की मौजूदगी में अभद्रता की गयी। कन्नौज के हसेरन ब्लाक में समाजवादी पार्टी की महिला प्रत्याशी को मारा-पीटा गया। बहराइच के शिवपुर ब्लाक में क्षेत्र पंचायत सदस्य यदुराई देवी के जेठ मायाराम की हत्या कर दी गयी। शिवपुर ब्लाक के भाजपा प्रत्याशी के पति ने रात में क्षेत्र पंचायत सदस्य यदुराई देवी के घर में घुस कर मारपीट किया। कुशीनगर के कसया ब्लाक में क्षेत्र पंचायत सदस्यों का उत्पीड़न किया जा रहा है। क्षेत्र पंचायत सदस्यों की दुकानें सील करते हुए परिजनों को जेल भेजा गया है।

      बयान में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश के प्रत्येक नामांकन केन्द्र में पहले से भाजपा के दर्जनों दबंग उपस्थित होकर निष्पक्ष चुनाव को खुली चुनौती दे रहे हैं। पुलिस-प्रशासन की मिली भगत से समाजवादी पार्टी प्रत्याशियों और समर्थकों पर झूठे मुकदमें लादे जा रहे है। महिलाओं के साथ बदसलूकी और अपमानजनक व्यवहार हो रहा है। सत्तापक्ष के जनप्रतिनिधि दबाव बनाकर अधिकारियों से सांठ-गांठ बनाकर हेल्पर के माध्यम से मतदान को प्रभावित करने की साजिश रच रहे है।

  उन्होंने कहा कि  यूपी में संविधान और लोकतंत्र को कमजोर करने वाली भाजपा को जनता सबक सिखाने के लिए तैयार है। सरकारी मशीनरी और गुंडागर्दी के बलबूते जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लाक प्रमुख पदों पर जबरन कब्जा करना भाजपा को भारी पड़ेगा। उत्तर प्रदेश की जनता भाजपा को कभी माफ नहीं करेगी।

लोकतंत्र को भारी क्षति 

 पार्टी कार्यालय में बड़ी संख्या में एकत्र कार्यकर्ताओं को  संबोधित करते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा ने लोकतंत्र को भारी क्षति पहुंचाई है। भाजपा ने पहले जिला पंचायत अध्यक्ष और अब ब्लाक प्रमुख का चुनाव जीतने के लिए पूरे प्रदेश में नंगानाच और खुली गुंडागर्दी की है। जिला प्रशासन और पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ता की तरह काम किया। लोकतंत्र की हत्या में शामिल अधिकारियों की लिस्ट तैयार की जा रही है, समाजवादी पार्टी की सरकार बनते ही उन पर कार्यवाही होगी। समाजवादी पार्टी इस अत्याचार को भूलेगी नहीं। 

समाजवादी पार्टी में एकत्र कार्यकर्ता
समाजवादी पार्टी में एकत्र कार्यकर्ता

 उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग को जो भी काम करना था वह काम नहीं किया। चुनाव पर उसका नियंत्रण नहीं रहा। उन्होंने कहा अपने को अनुशासित पार्टी होने का दावा करने वाली भाजपा के लोग इतने नीचे स्तर पर उतर आए कि महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार करने में भी लोकलाज नहीं रही। उन्होंने महिलाओं की इज्जत को तार-तार करने का पाप किया है। पूर्व स्पीकर श्री माता प्रसाद पाण्डेय को अपमानित किया गया। सरकार बताए कि हर जगह गुण्डई की इतनी आजादी किसने दे रखी है?

     अखिलेश यादव ने कहा कि लोकतंत्र में इतने अन्याय की कल्पना भी नहीं की जा सकती। भाजपा ने नोटबंदी करके काला धन के जरिए अर्थव्यवस्था को चौपट  कर दिया है। 

श्री यादव ने कहा कि इन चुनावों में भाजपा ने डी.एम.-एस.पी. का उपयोग अपने राजनीतिक स्वार्थ साधन में किया है। भाजपा का नकाब उतर चुका है। समाजवादी पार्टी के समर्थकों का हर प्रकार से उत्पीड़न किया जा रहा है। उन्हें फर्जी मुकदमों में फंसाया जा रहा है। 

      श्री यादव ने कहा किसान, नौजवान, व्यापारी, गरीब सभी तो भाजपा को हराना चाहते हैं। भाजपा का विकास से कोई मतलब नहीं है। समाजवादी पार्टी ही विकास के लिए प्रतिबद्ध है। भाजपा नफरत का एजेण्डा चलाती है। प्रदेश की जनता समाजवादी पार्टी के साथ है। सन् 2022 में भाजपा को उखाड़ने के लिए जनता संकल्पित है।

support media swaraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 + four =

Related Articles

Back to top button