अलवर राजस्थान पहुंची विरासत स्वराज यात्रा

प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को रोगियों के इलाज के लिए आवश्यक तत्काल संसाधनों से लैस करने से संपूर्ण आपातकालीन स्वास्थ्य प्रणाली पर दबाव कम करने में मदद मिलकर करने की जरूरत है। इसलिए आज जलपुरुष राजेन्द्र सिंह के मार्गदर्शन में तरुण भारत संघ द्वारा 09 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के थानागाजी प्रखंड में गुडा-चुरानी, थानागाजी, प्रतापगढ, किशोरी, अजबगढ़, नंगलबनी और राजगढ़ प्रखंड में गोला का बास एवं , तिजारा का इशरोदा केन्द्रों को यह निम्नलिखित चिकित्सा उपकरण वितरित किए गए।

विरासत स्वराज यात्रा 2021 – 22

स्थान – तरुण भारत संघ भीकमपुरा अलवर, राजस्थान

हम जानते हैं कि, कोरोना की तीसरी लहर जो भारत में अपने पैर पसार रही है, डॉक्टरों का भी अनुमान है कि, जनवरी माह में कोविड -19 का ओमनीक्रोन वेरिएंट अपनी चरम सीमा पर पहुंचना शुरू होगा। वर्तमान में राजस्थान कोविड -19 मरीजों को संख्या में तीसरी स्थान पर आ गया है। इस तीसरी लहर से बचने के लिए महामारी से उत्पन्न चिकित्सास्तर की मांग को पूरा करने के लिए प्राथमिक स्वास्थ केंद्रों को मजबूत करना महत्त्वपूर्ण हो गया है।

वर्तमान में राजस्थान कोविड -19 मरीजों को संख्या में तीसरी स्थान पर आ गया है। इस तीसरी लहर से बचने के लिए महामारी से उत्पन्न चिकित्सास्तर की मांग को पूरा करने के लिए प्राथमिक स्वास्थ केंद्रों को मजबूत करना महत्त्वपूर्ण हो गया है।

प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को रोगियों के इलाज के लिए आवश्यक तत्काल संसाधनों से लैस करने से संपूर्ण आपातकालीन स्वास्थ्य प्रणाली पर दबाव कम करने में मदद मिलकर करने की जरूरत है। इसलिए आज जलपुरुष राजेन्द्र सिंह के मार्गदर्शन में तरुण भारत संघ द्वारा 09 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के थानागाजी प्रखंड में गुडा-चुरानी, थानागाजी, प्रतापगढ, किशोरी, अजबगढ़, नंगलबनी और राजगढ़ प्रखंड में गोला का बास एवं , तिजारा का इशरोदा केन्द्रों को यह निम्नलिखित चिकित्सा उपकरण वितरित किए गए ।

आज जलपुरुष राजेन्द्र सिंह के मार्गदर्शन में तरुण भारत संघ द्वारा 09 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के थानागाजी प्रखंड में गुडा-चुरानी, थानागाजी, प्रतापगढ, किशोरी, अजबगढ़, नंगलबनी और राजगढ़ प्रखंड में गोला का बास एवं , तिजारा का इशरोदा केन्द्रों को यह निम्नलिखित चिकित्सा उपकरण वितरित किए गए ।

PHC में खून जांच के लिए (05) CBC मशीनें- पूर्ण रक्त गणना (सीबीसी) में लाल रक्त कोशिका (आरबीसी),सफेद रक्त कोशिका (डब्ल्यूबीसी), हीमोग्लोबिन, और प्लेटलेट काउंट, साथ ही हेमटोक्रिट स्तर शामिल हैं, रोगी के महत्वपूर्ण संकेतों की निगरानी के लिए (05) मल्टीपैरामीटर मॉनिटर जो की कार्डियक गतिविधि (ईसीजी), रक्तचाप (एनआईबीपी), श्वसन (आरईएसपी), ऑक्सीजन संतृप्ति (एसपीओ) और तापमान (टीईएमपी) की निगरानी के लिए उपयोग होता है, (02) नवजात शिशुओं के लिए रेडियंट वार्मर मशीन ।

जब तक एक शिशु गंभीर रूप से बीमार रहता है और उसे पुनर्जीवन या लगातार प्रक्रियाओं की आवश्यकता होती है तब तक उसकी देखभाल रेडियंट वार्मर पर की जाती है, मरीज के वायुमार्ग से अवरोधों – जैसे बलगम, लार, रक्त या स्राव – को दूर करने के लिए (04) इलेक्ट्रिक सक्शन मशीन, वेंटीलेटर पर आश्रित मरीजों के लिए (01) BiPap मशीन जो की फफड़ों में हवा पहुंचने में मदद करती है, श्वासनली के दृश्य में सहायता करने के लिए (01) लैरींगोस्कोप उपकरण, कान की जांच के लिए (01) ओटोस्काप उपकरण, (03) माइक्रो स्कोप, (5)ग्लूकोमीटर, मरीजों के लिए (16) बेड एवं (5) व्हील चेयर , देखभाल करता के लिए (15) बेंच, (6) मेडिकल वेस्ट बिन्स आदि आवश्यक चिकित्सीय उपकरण जलपुरुष राजेन्द्र सिंह जी द्वारा वितरित किए गए।

इस कार्यक्रम में 17 चिकित्सा अधिकारियों के साथ जलपुरुष राजेंद्र सिंह ने बातचीत की सभी का कहना था कि, 2 साल कोविड की मारामारी से यहां के डॉक्टरों ने और तरुण भारत संघ ने साथ मिलकर बहुत ही अच्छा कार्य किया है।

इस कार्यक्रम में 17 चिकित्सा अधिकारियों के साथ जलपुरुष राजेंद्र सिंह ने बातचीत की सभी का कहना था कि, 2 साल कोविड की मारामारी से यहां के डॉक्टरों ने और तरुण भारत संघ ने साथ मिलकर बहुत ही अच्छा कार्य किया है।

जलपुरुष डॉ राजेंद्र सिंह ने कहा कि कोरोना को तीसरी लहर से बचने के लिए हमें अभी सजग होना होगा और भारत को स्वस्थ रहने के लिए हमें अपने गांव में बाहर से आने वाले को कोविड वेरिएंट को सावधानीपूर्वक जीवन को चलाना और बचाना होगा।

आज जो तरूण भारत संघ द्वारा प्राथमिक स्वस्थ्य केन्द्रों को प्रदान किए यह सभी चिकित्सा उपकरण आने वाली कोविड़ की तीसरी लहर से लड़ने में सहायक होंगे। इससे भाविष्य में भी सामुदाय स्वस्थ लाभ मिलेगा। जिससे लोगों के जीवन में खुशहाली आयेगी।

आज जो तरूण भारत संघ द्वारा प्राथमिक स्वस्थ्य केन्द्रों को प्रदान किए यह सभी चिकित्सा उपकरण आने वाली कोविड़ की तीसरी लहर से लड़ने में सहायक होंगे। इससे भाविष्य में भी सामुदाय स्वस्थ लाभ मिलेगा। जिससे लोगों के जीवन में खुशहाली आयेगी।

एसडीएम थानागाजी नवनीत कुमार ने कहा कि, तरुण भारत संघ ने कोविड की शुरुआत से ही लोगों को सहायता की है। अभी यहां की एएनएम,आशा बहिनों और कोविड पॉजिटिव मरीजों को होम एसुलेशन केयर किट देकर और यहां के स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ खड़े होकर सेवा का भाव से काम किया है।

एसडीएम थानागाजी नवनीत कुमार ने कहा कि, तरुण भारत संघ ने कोविड की शुरुआत से ही लोगों को सहायता की है। अभी यहां की एएनएम,आशा बहिनों और कोविड पॉजिटिव मरीजों को होम एसुलेशन केयर किट देकर और यहां के स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ खड़े होकर सेवा का भाव से काम किया है।

इस अवसर पर तरूण भारत संघ के वरिष्ठ कार्यकर्ता सुरेश रैकवार, थानागाजी एसडीएम डॉ नवनीत कुमार, खंड मुख्य चिकित्सा अधिकारी थाना डॉ योगेश शुक्ला थानागाजी, डॉ कुलदीप वर्मा पीएचसी अजबगढ़, डॉ बनवारी लाल पीएचसी किशोरी, डॉ हार्दिक डागर पीएचसी गुडा-चुरानी, डॉ सुशील पीएचसी नागलवानी, डॉ सोनू गुप्ता सीएससी प्रतापगढ़, डॉ रतिराम पीएससी डिगाबढ़ा, राजगढ़, डॉ मनोज कुमार यादव खंड मुख्य चिकित्सा अधिकारी तिजारा, डॉ ललित कुमार पीएचसी इशरोदा, कैलाश शर्मा सीएससी प्रतापगढ़, भरत रैकवार, राहुल सिसोदिया, पारस प्रताप सिंह आदि उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़ें:

उज्जैन का महाकालेश्वर मंदिर भारत की बड़ी विरासत है- जलपुरुष राजेन्द्र सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 + 15 =

Related Articles

Back to top button