रीता बहुगुणा जोशी की छह वर्षीय पोती की पटाखे से झुलसने से मौत

इलाहाबाद से भारतीय जनता पार्टी की सांसद रीता बहुगुणा जोशी का संकट से पीछा नहीं छूट रहा है। पति के साथ ही कोरोना के संक्रमण से मुक्ति पाने के बाद उनको बड़ा दुख झेलना पड़ा है। उनकी छह वर्षीय पोती किया का सोमवार देर रात निधन हो गया है। प्रोफेसर रीता बहुगुणा जोशी और उनके पति के साथ किया का कोरोना संक्रमण का कुछ दिन पहले ही गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में इलाज हुआ था।

दिवाली की छुट्टी पर किया अपने मामा अंकुर वैश्य के घर गई थी। वहां पर उनकी मां तथा प्रोफेसर रीता बहुगुणा जोशी की बहू ऋचा जोशी भी थीं। ननिहाल गई मयंक जोशी की छह वर्ष की बेटी दिवाली सोमवार को पड़ोस के घर में पटाखे से झुलस गई थी। इसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

उसको मंगलवार को प्रयागराज से दिल्ली के मिलिस्ट्री अस्पताल में शिफ्ट करने की तैयारी थी।  उसका पार्थिव शरीर मिंटो रोड पर सांसद आवास पर लाया गया है। बालिका के पिता मयंक जोशी अभी दिल्ली में हैं। उनके आने के बाद अंतिम संस्कार किया जाएगा।

सांसद रीता जोशी के प्रवक्ता अभिषेक शुक्ल ने बताया कि सांसद की पोती किया तीन दिन से अपनी मां के साथ प्रयागराज के पुनप्पा रोड पर अपनी ननिहाल में थी। सोमवार को छत पर बच्चे खेल रहे थे। उस समय वहां कोई बड़ा नहीं था। इसी बीच किसी बच्चे ने पटाखा जला दिया। पटाखे की चिंगारी से बच्ची किया के कपड़ों में आग लग गई। छह वर्ष की मासूम किया ने दिवाली की रात फैंसी ड्रेस पहनी।

इस हादसे में बच्ची साठ प्रतिशत से ज्यादा जल गई थी। उसका निजी अस्पताल में शुरुआती इलाज चल रहा था। बच्ची की हालत बिगड़ती ही जा रही थी। देर रात उसकी हालत और बिगड़ गई और उसकी मौत हो गई। अभी पिता मयंक जोशी दिल्ली से प्रयागराज नहीं आ सके हैं। उनका इंतजार किया जा रहा है। यहां पर उनके आने के बाद ही बच्ची का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

अभिषेक ने बताया कि इस बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से भी बात की गई कि आज सुबह एयर एंबुलेंस से दिल्ली स्थित सेना के अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा। इसी बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी फोन पर बच्ची का हाल जाना। रीता बहुगुणा जोशी प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री भी थीं।

सांसद रीता बहुगुणा जोशी का परिवार दिवाली की रात को प्रयागराज में था। इस हादसे के बाद सांसद रीता बहुगुणा जोशी के परिवार का बुरा हाल है।

support media swaraj

Related Articles

Back to top button