राष्ट्रीय युवा दिवस पर युवाओं ने बुलंद की आवाज, गूँजा ‘पढ़ाई कमाई दवाई’ का मुद्दा

राष्ट्रीय युवा दिवस पर 'युवाओं की यूपी' मुहिम के तहत हुए 'डिजिटल पंचायत' में युवाओं ने आवाज़ बुलंद की है।

राष्ट्रीय युवा दिवस (National Youth Day) पर ‘युवाओं की यूपी’ मुहिम के तहत हुए ‘डिजिटल पंचायत’ में युवाओं ने आवाज़ बुलंद की है। देश में बेरोज़गारी को राष्ट्रीय बहस बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले युवा नेता अनुपम की अपील पर ‘पढ़ाई कमाई दवाई’ का मुद्दा जमकर गूँजा। मौका था राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर आयोजित डिजिटल पंचायत का जिसमें कई जाने माने लोगों ने शिरकत की। कार्यक्रम का संचालन अनुपम के अलावा ‘युवा हल्ला बोल’ के कार्यकारी अध्यक्ष गोविंद मिश्रा और महासचिव रजत यादव द्वारा किया गया।

देश के भूतपूर्व केंद्रीय सूचना आयुक्त यशोवर्धन आज़ाद, अर्थशास्त्री संतोष मेहरोत्रा, लेखक सुधींद्र कुलकर्णी और अधिवक्ता प्रशांत भूषण समेत कई जानेमाने लोगों ने पंचायत में हिस्सा लिया। ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश के चुनावी विमर्श के केंद्र में युवाओं का एजेंडा लाने के लिए ‘युवाओं की यूपी’ अभियान चलाया जा रहा है। इसी अभियान के अंतर्गत स्वामी विवेकानंद जयंती पर बेरोज़गार युवाओं ने ‘पढ़ाई कमाई दवाई’ के सवालों को मजबूती से उठाया है।

इस मौके पर अनुपम ने कहा कि हर युवा को स्वामी विवेकानंद के जीवन से धार्मिक सौहार्द और आपसी भाईचारे की प्रेरणा लेनी चाहिए। साथ ही भेद भाव से मुक्त एक बेहतर समाज निर्माण में अपना जीवन झोंक देना चाहिए। आज के इस दौर में स्वामी विवेकानंद की प्रासंगिकता और भी बढ़ गयी है जब धर्म के नाम पर नफरत की राजनीति का बोलबाला बढ़ गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

one × three =

Related Articles

Back to top button