आज भी कृषि कानून के खिलाफ दिल्ली कूच की तैयारी

नई दिल्ली: किसानों का प्रदर्शन शुक्रवार को भी आक्रामक रुख अपना चुका है. सिंधु बॉर्डर पर पुलिस और किसानों के बीच भिड़ंत हुई, यहां पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे. लेकिन किसान पीछे नहीं हटे हैं और दिल्ली आने पर अड़ गए हैं. प्रदर्शन के कारण दिल्ली में कई जगह मेट्रो स्टेशन बंद किए गए हैं, साथ ही अस्थाई जेल बनाने की तैयारी है.

सिंधु बॉर्डर पर बिगड़े हालात
सिंधु बॉर्डर पर एक बार फिर हालात बिगड़ते हुए दिख रहे हैं. पुलिस की ओर से किसानों पर आंसू गैस के गोले दागे गए हैं. जिससे किसान कुछ पीछे हटे हैं लेकिन कोई वापस नहीं गया है.

ग्रीन लाइन पर कई जगह मेट्रो स्टेशन के गेट बंद
किसानों के प्रदर्शन के कारण कई मेट्रो स्टेशन के गेट्स को बंद कर दिया गया है. ग्रीन लाइन पर ब्रिगेडियर होशियार सिंह, बहादुरगढ़ सिटी, श्रीराम शर्मा, टिकरी बॉर्डर, टिकरी कलां, घेवरा स्टेशन के एंट्री और एग्जिट गेट को बंद कर दिया गया है.

पुलिस के साथ बातचीत फेल, दिल्ली जाने पर अड़े किसान
दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार सुबह सिंधु बॉर्डर पर कुछ किसानों से बात की है. पुलिस ने किसानों को वापस जाने की अपील की और कोरोना नियमों का पालन करने को कहा. हालांकि, किसान दिल्ली जाने पर अड़ गए हैं और पुलिस की बात नहीं मान रहे हैं. किसानों का कहना है कि हम दिल्ली जाकर रहेंगे चाहे कुछ भी हो जाए. सरकार हमारी बात नहीं सुन रही है और हम दिल्ली के रामलीला मैदान में ही जाकर रुकेंगे.

दिल्ली के करीब पहुंचे किसान
किसानों का प्रदर्शन आज भी जारी है और अब अधिक आक्रामक होता जा रहा है. शुक्रवार सुबह किसान पुलिस द्वारा सारी रोक हटाकर रोहतक पहुंच गए, यहां रोहतक-दिल्ली हाईवे पर किसान इकट्ठा होना शुरू हो गए हैं. दूसरी ओर सोनीपत में भी किसानों और पुलिस में तनाव बढ़ गया है, किसानों का एक जत्था पानीपत-सोनीपत बॉर्डर पहुंच गया. किसानों ने यहां भी बैरिकेडिंग को हटाना शुरू कर दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button