छठ पर्व की मुख्य पूजा में इन फलों को जरुर करे अर्पण

आप सभी जानते ही होंगे कि हर साल कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि को छठ पूजा होती है। ऐसे में हिंदू धर्म में छठ पूजा एक विशेष पर्व माना जाता है। वैसे तो छठ पूजा 18 नवंबर से आरम्भ हो चुकी है लेकिन आज यानी 20 नवंबर को छठ पर्व की मुख्य पूजा है। आप जानते ही होंगे यह व्रत अत्यंत कठिन होता है।

जी दरअसल छठ के पर्व में महिलाएं और व्रती 36 घंटे लंबा व्रत करते हैं। नहाय-खाय से छठ का पर्व शुरू होता है और छठ पूजा में छठी मैय्या को कई तरह के पकवान और फल चढ़ाए जाते हैं। अब आज हम आपको बताने जा रहे हैं छठी मैय्या को किन चीजों का भोग लगाना चाहिए जिससे वह खुश हो जाएं।

डाभ– कहा जाता है यह सामान्य नींबू से बड़ा दिखाई देता है। वहीँ स्वाद में भी यह खट्टेपन के साथ मीठा होता है और इस फल को सबसे शुद्ध फल माना जाता है।

केला– कहते हैं केले के वृक्ष को बहुत ही पवित्र माना जाता है। इस वजह से छठी मइया को केला भी चढ़ाते हैं। छठ पूजा के दौरान कोई पक्षी उसे झूठा न करे इसलिए कच्चे केले को पहले ही घर पर लाकर पका लिया जाता है और उसके बाद उसे छठी मैय्या को चढ़ाया जाता है।

नारियल– आप जानते ही होंगे पूजा में नारियल को शुद्ध फल माना जाता है। जी दरअसल इसकी सतह बहुत सख्त होने के साथ यह ऊंचाई पर लगता है, जिसकी वजह से पशु-पक्षी इसे झूठा नहीं कर पाते हैं। इस वजह से नारियल को मां लक्ष्मी का प्रतीक भी मानते हैं।

सुथनी फल– यह फल दिखने और स्वाद में शकरकंद जैसा लगता है। कहा जाता है इस फल को बहुत ही शुद्ध मानकर छठी मैय्या की पूजा में इस्तेमाल करते हैं। गन्ना- आप जानते ही होंगे छठ पूजा में गन्ना भी चढ़ाते हैं। गन्नों के हरे हिस्से समेत ऊपर की ओर से बांधकर घर की आकृति बनाते हैं, फिर उस जगह पर पूजा करते हैं।

support media swaraj

Related Articles

Back to top button