भारत बंद: पुलिस ने सीएम केजरीवाल को किया नजरबंद- AAP

नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमा पर पिछले 12 दिनों से प्रदर्शन कर रहे किसानों ने आज ‘भारत बंद’ का आह्वान किया है। आम आदमी पार्टी (आप) ने ट्वीट करके दावा किया है कि सोमवार को सीएम अरविंद केजरीवाल के सिंघु बॉर्डर पर जाने के बाद दिल्ली पुलिस ने उन्हें घर में नजरबंद कर लिया है। प्रदर्शन के मद्देनजर सिंघु बॉर्डर पर भारी संख्या में सुरक्षा बल तैनात हैं। किसानों और केंद्र सरकार के बीच इसे लेकर कई दौर की बातचीत हो चुकी है, लेकिन अभी तक कोई नतीजा नहीं निकल सका है। किसान यूनियनों ने कहा है कि वे सरकार द्वारा प्रस्तावित किए जा रहे कृषि कानूनों में संशोधन से संतुष्ट नहीं हैं। दोनों के बीच कल (बुधवार) को फिर बातचीत होनी है।

किसान नेताओं ने कहा है कि किसी को भी बंद में शामिल होने के लिए मजबूर नहीं किया जाना चाहिए। लगभग सभी विपक्षी दलों और कई ट्रेड यूनियनों ने ‘भारत बंद’ और किसानों का समर्थन करने का फैसला किया है। इसके मद्देनजर केंद्र ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को सुरक्षा कड़ी करने और कोरोना वायरस (COVID-19) को लेकर दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए एक एडवाइजरी जारी की है।

– आम आदमी पार्टी (आप) ने ट्वीट करके दावा किया है  कि सोमवार को सीएम अरविंद केजरीवाल के सिंघु बॉर्डर पर जाने के बाद दिल्ली पुलिस ने उन्हें हाउस अरेस्ट कर लिया है।

– शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा कि यह कोई राजनीतिक बंद नहीं है। यह हमारी भावना है। दिल्ली में आंदोलन कर रहे किसान संगठनों ने कोई राजनीतिक झंडा नहीं उठाया है। यह हमारा कर्तव्य है कि हम किसानों के साथ एकता में खड़े हों और उनकी भावनाओं से जुड़े रहें। यहां कोई राजनीति नहीं है और न ही होनी चाहिए। अगर सरकार के पास दिल है तो प्रधानमंत्री या गृह मंत्री खुद जाकर उनसे(किसानों) बात करेंगे और उनको समझाएंगे।

– बिहार: किसान संघों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के दौरान राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के कार्यकर्ताओं ने दरभंगा के गंज चौक पर टायर जलाया।

– सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे मंगलवार को आंदोलनरत किसानों को समर्थन देने के लिए एक दिवसीय भूख हड़ताल पर बैठे। उन्होंने कहा कि आंदोलन पूरे देश में फैलना चाहिए ताकि सरकार किसानों के हितों के लिए काम करे। एक रिकॉर्ड किए गए संदेश में उन्होंने दिल्ली की सीमाओं पर किसानों के विरोध की सराहना करते हुए कहा कि आंदोलन के पिछले 10 दिनों में कोई हिंसा नहीं हुई है।

– कर्नाटक: किसान संघों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के समर्थन में कांग्रेस नेताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। केंद्र के खिलाफ नारे लगाए और काले झंडे दिखाए। इस दौरान पार्टी के नेता सिद्धारमैया, बीके हरिप्रसाद, रामलिंग रेड्डी और अन्य उपस्थित रहे।

– दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की एडवाइजरी
दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने एडवाइजरी जारी की है। इसके अनुसार हरियाणा जाने के लिए दौराला, कपासेरा, राजोखरी एनएच 8, बिजवासन / बजघेरा, पालम विहार और डूंडाहेड़ा सीमाएं खुली हुई हैं। टिकरी, झारोदा बॉर्डर और धनसा बंद हैं। बदुसराय सीमा कारों और दोपहिया वाहनों के लिए खुली है। झटीकरा सीमा केवल दोपहिया यातायात के लिए खुली है।

– पश्चिम बंगाल: कोलकाता में भारत बंद के समर्थन में विरोध प्रदर्शन कर रही लेफ्ट पार्टियों ने जादवपुर में रेल रोकी।

– कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसानों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए सिंघु बॉर्डर पर सुरक्षा बल तैनात है। किसान यूनियनों ने आज कृषि कानूनों के खिलाफ भारत बंद का आवाह्न किया है।

– भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि हमारा विरोध पूरी तरह से शांतिपूर्ण होगा। अगर हमारे द्वारा बुलाए गए भारत बंद में कोई 2-3 घंटे के लिए फंस जाता है, तो हम उन्हें पानी और फल देंगे। हमारी एक अलग अवधारणा है।

–  समाचार एजेंसी आइएएनएस के अनुसार उत्तर प्रदेश में ‘भारत बंद’ के आह्वान को देखते हुए हाई अलर्ट है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं कि आम लोगों को ‘भारत बंद’ के कारण कोई असुविधा न हो। उन्होंने पुलिस को किसानों के साथ किसी भी टकराव से बचने की सलाह दी है । दिल्ली और अन्य राज्यों से सटे सभी जिलों में विशेष सतर्कता बरती जा रही है और अतिरिक्त बलों को वहां तैनात किया गया है।

– आंध्र प्रदेश: वामपंथी राजनीतिक दलों ने आज के भारत बंद के समर्थन में विजयवाड़ा में विरोध प्रदर्शन किया।

– ओडिशा: वाम राजनीतिक दल, ट्रेड यूनियन और किसान यूनियनों ने भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन रोक दिया।

– महाराष्ट्र: स्वाभिमानी शेतकारी संगठन ने बुलढाणा के मलकापुर में आज एक ट्रेन को रोक दिया। बाद में उन्हें पुलिस ने पटरियों से उन्हें हटाया और हिरासत में ले लिया।

गृह मंत्रालय की एडवाइजरी
बंद और विरोध प्रदर्शन के आह्वान के मद्देनजर, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासनों को अपनी एडवाजरी में यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि कोरोना के मद्देनजर स्वास्थ्य और शारीरिक दूरी को लेकर जारी किए गए दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाए। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को निर्देश दिया गया कि है ‘भारत बंद’ और एहतियाती कदम के दौरान शांति बनाए रखी जाए ताकि देश में कहीं भी कोई अप्रिय घटना न हो।

विपक्षी दलों पर भाजपा ने साधा निशाना
विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए भाजपा ने कहा कि उनपर दोहरे मापदंड अपनाने का आरोप लगाया। भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि देशभर के विभिन्न चुनावों में लोगों द्वारा बार-बार खारिज किए जाने के बाद विपक्षी दल अपने अस्तित्व को बचाने के लिए आंदोलन में शामिल हुए हैं। प्रसाद ने कहा कि किसानों का एक वर्ग निहित स्वार्थों के साथ कुछ लोगों के बहकावे में आ गया है और कहा कि सरकार सुधारों के बारे में उनकी गलतफहमियों को दूर करने के लिए काम कर रही है।

दोपहर 3 बजे तक ‘चक्का जाम’
क्रांति किसान यूनियन के पंजाब इकाई के अध्यक्ष दर्शन पाल ने सोमवार को कहा कि मंगलवार को दोपहर 3 बजे तक ही ‘चक्का जाम’ रहेगा। राजनीतिक पार्टियों को भी इसमें शामिल होने की अनुमति दी जाएगी। हरियाणा पुलिस और दिल्ली पुलिस ने ट्रेवल एडवाइजरी जारी की है। इसमें बताया गया है कि लोगों को विभिन्न सड़कों और राजमार्गों पर यातायात अवरोधों का सामना करना पड़ सकता है।

हरियाणा पुलिस की एडवाइजरी
हरियाणा पुलिस द्वारा जारी एडवाइजरी में कहा गया कि आंदोलनकारी किसान हरियाणा के भीतर विभिन्न सड़कों और राजमार्गों पर धरने पर बैठ सकते हैं और उन्हें कुछ समय के लिए अवरुद्ध सकते हैं। जाम का सबसे ज्यादा असर दोपहर 12 से 3 बजे के बीच  दिखने उम्मीद है। इसके चलते मुख्य राष्ट्रीय राजमार्ग दिल्ली-अंबाला (NH-44), दिल्ली-हिसार (NH-9), दिल्ली-पलवल (NH-19) और दिल्ली से रेवाड़ी (NH-48) हाईवे कुछ समय के लिए प्रभावित हो सकता है।

support media swaraj

Related Articles

Back to top button