वनरक्षक ने फर्ज के आगे दांव पर लगाई जान !    

 

 (मीडिया स्वराज डेस्क )

जबलपुर अस्पताल से फरार हुए कोरोना पॉजिटिव आरोपी जावेद खान को पुलिस ने नहीं बल्कि एक वनरक्षक (फॉरेस्ट गार्ड) ने अपनी जान को खतरे में डाल कर पकड़ा है। रविवार दोपहर जबलुपर मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड से फरार आरोपी जावेद खान को आज नरसिंहपुर जिले के तेंदूखेंड़ा मदनपुर चेकपोस्ट पर वनरक्षक प्रिंस साहू ने अपने दो साथी वन चौकीदारों की मदद से पकड़ लिया।

लॉकडाउन के दौरान इंदौर में चंदन नगर में पुलिस पर हमले का आरोपी जावेद खान के अस्पताल से फरार होने के बाद पुलिस ने उस पर 50 हजार का इनाम रखा था। कोरोना पॉजिटिव आरोपी को पकड़ने वाले वनरक्षक प्रिंस साहू बताते हैं कि जब वह चेकपोस्ट पर अपनी ड्यूटी पर थे तभी उन्होंने एक शख्स को चेकपोस्ट से कुछ दूरी पर अपनी गाड़ी सही करते हुए देखा। जब उन्होंने उससे पूछताछ की तो वह अपनी पहचान छुपाने की कोशिश करने लगा।

 इसके बाद जब उन्होंने उससे सख्ती से पूछताछ की तब उसने अपनी पहचान जबलपुर से भागे जावेद खान के रूप में बताई। इसके बाद उन्होंने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को पूरी सूचना दी। घटना के बाद वनरक्षक प्रिंस साहू और उसके साथी चौकीदारों का नरसिंहपुर जिला अस्पताल में चेकअप किया गया और ऐहितायतन 14 दिन के लिए क्वारेंटाइन कर दिया गया है। क्वारेंटाइन में जाने से पहले वनरक्षक प्रिंस साहू ने कोरोना पॉजिटिव फरार आरोपी जावेद खान को किस तरह पकड़ा इसको एक वीडियो के जरिए विस्तार से बताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles