पुलिस अफ़सर ने उगाई ढाई फ़ीट लम्बी तरोई

मेरे गार्डेन में ढाई फ़ीट की तरोई( Ridge Guard) जिसे मैंने बीज के लिए छोड़ दिया है। मैंने पहलीबार इतनी बड़ी तरोई पैदा की है।आम तौर पर शहरी क्षेत्र में लोग निनुआ( Sponge Guard) ही ख़रीदते है जो चिकना होता है , परंतु पूर्वी उत्तर प्रदेश और मेरठ सहित यूपी के पश्चिमी ज़िलों में धारीदार तरोई ‘ Ridge Guard’ पसंद की जाती है। पूर्वी उत्तरप्रदेश में सरपूतिया ( गुच्छे में फलने वाली भिंडी की साइज़ की तुरई) बहुत पसंद की जाती है जो धारीदार और चिकनी दोनो में मिलती है, स्वाद लाजवाब।जो एकबार धारीदार तरोई का स्वाद चख लेगा, वह निनुआ कम पसंद करेगा। लखनऊ में सितम्बर महीने में धारीदार तुरई कही- कही मिल जाती है ।

 

कृपया इसे भी पढ़ें :   https://mediaswaraj.com/police_officer_gardening_hobby-lucknow/

 

Brij Lal , Ex DGP , UP

Brij Lal Ex-DGP UP

आईपीएस अफ़सर श्री बृज लाल उत्तर प्रदेश में पुलिस महानिदेशक रहे हैं . उनकी गिनती तेज तर्रार पुलिस अफ़सरों में होती थी . रिटायरमेंट के बाद वह लखनऊ में रहते हैं  . उनका आँगन और बगीचा तरह – तरह के फूलों , फलों और सब्ज़ियों से हरा भरा रहता है .खेती और बाग़वानी ऐसे शौक़ हैं क़ि  उनसे अनाज, फल और सब्ज़ी तो मिलती है है, मतलब भर की शारीरिक कसरत हो जाती है. अपने बोए बीज या पौधे खिले देखकर मन भी प्रसन्न होता है. बाग़वानी कहीं भी की जा सकती है, खेत में आँगन में  या छत पर. अपने घर की सब्ज़ी या फल खाने से आप रासायनिक खाद और कीडेमार  दवाइयों  अथवा गंदे नालों के किनारे की सब्ज़ियों से भी बच जाते हैं. पेश है  मीडिया स्वराज़ के पाठकों को बृज लाल जी के बाग़वानी के शौक़ की एक  झलक  मिलती रहेगी.

यदि आपको भी कोई सृजनात्मक शौक़ हैं तो कृपया अपना स्मार्ट फ़ोन उठाइए. कुछ फ़ोटो खींचिए  और अपनी कहानी मीडिया स्वराज़ को भेज दीजिए. बेहतर हो अपना आइडिया सम्पादकीय  डेस्क के पहले भेज दें.   

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles