महिलाओं के बीच बोले मोदी, शादी की उम्र 21 करने का किया प्रयास तो तकलीफ किन्हें हो रही!

दी ने भारत माता की जय के बाद ठेठ अंदाज में अपना उद्बोधन शुरू किया। बोले- 'मां गंगा, यमुना, सरस्‍वती के पावन तट पर बसा प्रयागराज कै धरती कै शीश झुकाय के प्रणाम करत हई। इ ऊ धरा ह जहां धर्म, ज्ञान और न्‍याय की त्रिवेणी बहत बा। तीर्थंन के चरण प्रयागराज में आय के हमेशइ एक अलग ऊर्जा का एहसास होत है। पिछले वर्ष फरवरी में कुंभ में इ पवित्र धरती पर आवा रहेन। तब संगम में डुबकी लगाइके अलौकिक अनुभूति करे रहे। पावन भूमि को हाथ जोड़कर प्रणाम करता हूं।

संगमनगरी प्रयागराज पहुंचे पीएम मोदी

प्रयागराज: महिला सशक्तीकरण को शीर्ष वरीयता पर रखने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संगमनगरी प्रयागराज में मंगलवार को करीब एक हजार करोड़ के रिवाल्विंग फंड से स्वयं सहायता समूह की 16 लाख महिलाओं को बड़ा उपहार दिया। इसके तहत 20 हजार व्यापार सखियों के खातों में पहले महीने का 4000 रुपये मानदेय भी हस्तांतरित किया। पीएम मोदी ने एक लाख से ज्यादा कन्या सुमंगल योजना के लाभार्थियों के लिए 20 करोड़ रुपये की भी व्यवस्था की है। पीएम मोदी ने मंच से बटन दबाकर 202 राजकीय पुष्टाहार प्लांट का उद्घाटन किया वहीं लाखों महिलाओं के बैंक अकाउंट में भी पैसे ट्रांसफर किए।

पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत हमेशा की तरह लोगों के अभिवादन और स्थानीय भाषा में किया। वह बोले पिछले वर्ष कुंभ में हम ई पवित्र धरती पर आवा रहे, तब संगम में डुबकी लगाके अलौकिक आनंद आवा रहा। पीएम ने कहा कि प्रयागराज से साहित्य की जो त्रिवेणी बही उसे आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी संपादक भी रहे। हमारी मातृशक्ति की प्रतीक यह तीर्थ नगरी मां गंगा यमुना और सरस्वती की संगम नगरी रही है। ये हमारा सौभाग्य है कि आप महिलाएं हमें आशीर्वाद देने आई हैं। 

पूरा देश देख रहा यूपी का विकास

पीएम ने बोला कि प्रदेश में महिलाओं के विकास के लिए जो काम हुआ है वो पूरा देश देख रहा है। आज मुझे मुख्यमंत्री सुमंगला योजना की लाखों महिलाओं के अकाउंट में करोड़ों रुपये ट्रांसफर करने का सौभाग्य मिला। यूपी में बैंक सखी का जो अभियान शुरू हुआ है वो महिलाओं के जीवन में भी बड़े बदलाव ला रहे हैं। सरकार से डीबीटी के जरिए सीधे खाते में आता है। पैसा निकालने बैंक नहीं जाना पड़ता, बैंक सखी की मदद से घर पर ही ये पैसा मिलता है। इस तरह गांव पर ही बैंक आता है। ये कोई छोटा काम नहीं है। यूपी सरकार ने इन बैंक सखियों के ऊपर 75 हजार करोड़ रुपये के लेन-देन की जिम्मेदारी सौंपी है। जितना लेन-देन गांव में होगा उतनी उनकी आमदनी भी होगी। ये अधिकतर वो बहनें हैं जिनके कुछ दिन पहले अपने बैंक खाते भी नहीं थे। अब इनके हाथ में फिजिकल बैंकिंग की शक्ति आ गई है।

हमारी योजनाओं ने यूपी की महिलाओं का जीवन बदलना शुरू कर दिया है

पीएम मोदी ने कहा कि जिन 202 पुष्टाहार प्लांट का आज उद्घाटन हुआ है उससे महिलाओं को काम भी मिलेगा और सुविधा भी। इन योजनाओं ने यूपी की महिलाओं का जीवन बदलना शुरू कर दिया है। आज मुझे एक हजार करोड़ रुपये ट्रांसफर करने का अवसर मिला। अब पहले की सराकारों वाला दौर महिलाएं वापस नहीं आने देंगी। यूपी की महिलाओं को योगी सरकार ने जो सम्मान दिया है वो अभूतपूर्व है। महिलाओं का जीवन पीढ़ियों का जीवन बदलने वाला होता है। इसलिए 2014 में मां भारती के बड़े सपनों और आकांक्षाओं को साकार करने का बीड़ा उठाया तो बेटी के सपनों को पूरा करने का निश्चय किया। बेटियां जन्म लें इसके लिए हमने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के माध्यम से समाज की चेतना को जगाने का प्रयास किया। इससे कई राज्यों में बेटियों की जनसंख्या में वृद्धि हुई है। इसलिए मैटरनिटी लीव छह महीने की गई है।

महिलाओं को मिला सरकारी योजनाओं का लाभ

पीएम मोदी ने कहा कि अब तक 2000 करोड़ महिलाओं को 10 हजार करोड़ से अधिक रुपये गर्भावस्था के दौरान दिए जा चुके हैं. सैनिटरी पैड को भी हमने गरीब से गरीब बेटियों तक पहुंचाने के लिए हर काम किया। सुकन्या राशि के तहत लाखों अकाउंट खुले हैं ताकि बच्चियों को पढ़ाई में मदद मिल सके। स्वच्छ भारत के तहत करोड़ों शौचालय बनने से, उज्ज्वला योजना से गैस मिलने से, हर घर जल मिलने से भी उनके जीवन में वृद्धि हुई है। सबसे अधिक लाभ महिलाओं को इन योजनाओं का हुआ है। पहले पैसे के अभाव में इनके जीवन पर संकट रहता था अब 5 लाख का इलाज मिलने से उनकी ये चिंता दूर हुई है।

यूपी में 30 लाख से अधिक घर पीएम आवास योजना के तहत बनाए गए

पीएम मोदी ने कहा कि पीएम आवास योजना के तहत जो घर दिए जा रहे हैं वो प्राथमिकता के आधार पर महिलाओं के नाम से बन रहे हैं। यूपी में 30 लाख से अधिक घर पीएम आवास योजना के तहत बनाए गए हैं, इनमें से 25 लाख घर महिलाओं के ही नाम हैं।

700 फास्ट ट्रैक कोर्ट स्थापित किए

पीएम ने बताया कि अगले कुछ वर्षों में घर का मालिकाना हक महिला के नाम होगा। महिला स्वयं सहायता समूह असल में राष्ट्र सहायता समूह है, जो महिलाओं के लिए बहुत ही लाभदायक है। इसमें 5 सालों में 13 गुना बढ़ोतरी हुई है। शहर हो या गांव महिलाओं के लिए हमारी सरकार हर छोटी बड़ी सुविधा दे रही है। हमने मुफ्त राशन देने की व्यवस्था हमारी सरकार ने की है। खदानों में महिलाओं के काम करने पर जो बंदिश थी हमारी सरकार ने हटाई। रेप जैसे संगीन अपराधों की तेज सुनवाई के लिए 700 फास्ट ट्रैक कोर्ट स्थापित कर चुकी है। तीन तलाक के विरुद्ध कानून हमने बनाया।

बेटियों की शादी की उम्र 21 साल करने का प्रयास किया जा रहा

कुछ दिन पहले ही हमारी सरकार ने बेटियों की शादी की उम्र 21 साल करने का प्रयास किया जा रहा है। लेकिन किसे इससे तकलीफ हो रही है ये सभी देख रहे हैं। पहले यूपी में माफियाराज था, गुंडों की हनक हुआ करती थी, पहले बहन-बेटियों को सड़क पर निकलने में मुश्किल होती थी। आज यूपी में सुरक्षा भी है अधिकार भी है, संभावनाएं भी हैं, यूपी में व्यापार भी है। माताओं-बहनों का आशीर्वाद है तो यूपी को कोई अंधेरे में नहीं धकेल सकता। हमारा यूपी आगे बढ़ेगा आज ये संकल्प लें। इसी के साथ पीएम मोदी ने अपने वाणी को विराम दिया और वंदे मातरम के नारे लगाए।

भारत माता की जय के बाद ठेठ अंदाज में उद्बोधन

पीएम मोदी ने भारत माता की जय के बाद ठेठ अंदाज में अपना उद्बोधन शुरू किया। बोले- ‘मां गंगा, यमुना, सरस्‍वती के पावन तट पर बसा प्रयागराज कै धरती कै शीश झुकाय के प्रणाम करत हई। इ ऊ धरा ह जहां धर्म, ज्ञान और न्‍याय की त्रिवेणी बहत बा। तीर्थंन के चरण प्रयागराज में आय के हमेशइ एक अलग ऊर्जा का एहसास होत है। पिछले वर्ष फरवरी में कुंभ में इ पवित्र धरती पर आवा रहेन। तब संगम में डुबकी लगाइके अलौकिक अनुभूति करे रहे। पावन भूमि को हाथ जोड़कर प्रणाम करता हूं।

पीएम मोदी बोले कि यूपी में सुरक्षा भी है और अधिकार भी है। संभावनाएं हैं तो व्‍यापार भी यूपी में आज है। अब इस नई यूपी को वापस अंधेरे में नहीं ढकेला जा सकता। प्रयागराज की पुण्‍य भूमि से संकल्‍प लें कि हमारा यूपी आगे बढ़ेगा, नई ऊंचाइयां छूएगा। यूपी को आगे बढ़ाने में आपकी सहभागिता के लिये आपको नमन करता हूं।

पीएम मोदी बोले कि आज हिंदी साहित्‍य जगत के सर्वमान्‍य आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी की पुण्‍यतिथि है। प्रयागराज से साहित्‍य की संस्‍कृति बही है। उन्‍हें श्रद्धांजलि दी। कहा कि प्रयागराज हजारों सालों से हमारी मातृ शक्ति की प्रतीक है। यह गंगा, यमुना, सरस्‍वती के संगम की नगरी रही है। आज नारी शक्ति के इतने बड़े संगम की साक्षी बनी है। हम सभी का सौभाग्‍य है कि आप सभी अपना स्‍नेह व आशीर्वाद देने आई हैं।

महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए जो काम हुआ है, वह पूरा देश देख रहा

बोले कि यूपी में विकास के लिए महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए जो काम हुआ है, वह पूरा देश देख रहा है। मुख्‍यमंत्री कन्‍या सुमंगल योजना की एक लाख से अधिक लाभार्थी बेटियों के खाते में करोड़ों रुपये ट्रांसफर करने का सौभाग्‍य प्राप्‍त हुआ। यूपी ने बैंक सखी का अभियान जो शुरू किया है, उससे महिलाओं के रोजगार के अवसरों के शुरू करने के साथ ही उनके जीवन में बड़े बदलाव ला रही है। बोले एक हजार करोड़ रुपये ट्रांसफर करने का सौभाग्‍य मिला है मुझे। यूपी में महिलाओं का सम्‍मान व गरिमा सरकार ने बढ़ाई है, वह अभूतपूर्व है।

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि टीकाकरण अभियान को नई गति देने का काम हो रहा है। शौचालय के माध्‍यम से नारी गरिमा का सम्‍मान दिया गया है। पीएम आवास योजना में अधिकांश मकान महिलाओं को ही मिले हैं। पीएम स्‍वामित्‍व योजना के माध्‍यम से जिस गांव में गरीब का मकान टूट जाता था, दबंग नहीं बनाने देते थे। आज हर गरीब को उसका अधिकार दिया जा रहा है। मकान के कब्‍जे जमीन के कब्‍जे महिलाओं के नाम पर दिए जा रहे हैं। आधी आबादी को सुरक्षा सम्‍मान दिया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें:

आज प्रयागराज पहुंचेंगे मोदी, महिला समूहों के खाते में 10 अरब रुपये करेंगे ट्रांसफर

सीएम बोले कि यूपी सरकार ने विभिन्‍न कार्यक्रम इस दौरान लागू किए हैं। आधी आबादी को हक का सम्‍मान दिलाने के काम आजादी के बाद 2014 के बाद देखने को मिला है। गांव के बुजुर्गों को गांव में बैंक सुविधा मिल रही है। विकास और पुष्‍टाहार के माध्‍यम से मिलने वाले पोषाहार की शिकायत होती थी। आज मिलने वाले पोषाहार की क्‍वालिटी भी अच्‍छी है। प्रदेश में कन्‍या सुमंगल योजना भी चलाई गई है। जन्‍म से स्‍नातक तक पढ़ाई के साथ 15 हजार रुपये की राशि बालिकाओं के लिए है। नारी गरिमा व नारी सुरक्षा के लिए अभियान से जुड़ने के लिए आज संगम नगरी में पीएम आए हैं। संगम में नारी गरिमा के प्रतीक प्रदेश भर की माताएं भी संगम नगरी में भारी महाकुंभ में शामिल हुई हैं।

किस नेता ने क्या कहा

केशव प्रसाद मौर्य ने भारत माता की, गंगा मइया की, यमुना मइया की सरस्‍वती मइया की जय से उद्बोधन शुरू किया। महिलाओं के लिए खजाना पीएम ने खोल दिया है। स्‍वागत व अभिनंदन किया। जहां नारी का आदर होता है, वहां देवता वास करते हैं। भाजपा ने मातृ शक्ति का सम्‍मान किया है। प्रधानमंत्री ने यहां सफाई कर्मी का चरण धोकर उन्‍हें सम्‍मान दिया था, मजदूरों की पूजा करने का काम पीएम ने किया था।

सांसद रीता जोशी ने कहा कि बहनें घर में रोटी बेलने से लेकर लड़ाकू विमान चलाकर दुष्‍मन को छक्‍के छ़डाने का काम कर रही हैं। ओलंपिक में पदक प्राप्‍त कर रही हैं। कन्‍या सुमंगल योजना से प्रदेश आगे बढ़ रहा है। डबल इंजन की सरकार है जो देश व प्रदेश में विकास कर रही हैं। महिलाओं को हमें मजबूत करना है।

सांसद केशरी देवी पटेल ने कहा कि देश की आधी आबादी का मान सम्‍मान, स्‍वाभिमान बढ़ाने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी आपके बीच पधारे हैं। सभी का अभिनंदन किया। पीएम ने आधी आबादी के लिए जो किया है उससे हमारे सपने पूरे किए हैं। आजादी के बाद 75 वर्षों में किसी ने नहीं बहनों (महिलाओं) का ध्‍यान रखा, मोदी जी ने ऐसा किया।

कौन कौन थे मौजूद

कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी के स्वागत के लिये मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ और उप मुख्‍यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य मंच पर पहुंचे। इस दौरान मंच पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य समेत अन्‍य मंत्रीगण भी मौजूद रहे। इनमें केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल, साध्वी निरंजन ज्योति, हेमा मालिनी, प्रभारी मंत्री डा. महेंद्र सिंह, मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह, कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, नंद गोपाल गुप्ता ‘नंदी’, मंत्री स्वाति सिंह, मेयर अभिलाषा गुप्ता नंदी, जिला पंचायत अध्यक्ष वीके सिंह, मेनका गांधी, डा. रीता बहुगुणा जोशी, केशरी देवी पटेल, रमेश चंद्र बिंद, बेबी रानी मौर्य, संघमित्रा मौर्या, रेखा वर्मा, गीता शक्य जैसे कई नाम शामिल हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार को संगम के करीब परेड मैदान में आयोजित महिला सशक्तीकरण सम्मेलन को संबोधित करने के लिये पहुंचे। इस आयोजन में प्रदेश भर से करीब ढाई लाख महिलाओं ने हिस्सा लिया। विभिन्न योजनाओं के तहत मातृशक्ति को आज पीएम मोदी ने 1230 करोड़ का उपहार दिया। इन महिलाओं ने स्वयं को आत्मनिर्भर बनाते हुए राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत गांव-गांव में स्वयं सहायता समूहों के जरिये काम करके सफलता का लोहा मनवाया। प्रधानमंत्री मोदी ने टेक होम राशन प्लांट का शिलान्यास भी किया। यहां तय कार्यक्रम के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी दोपहर 12:45 बजे पहुंचे और 2:45 बजे तक यहां से प्रस्थान किया।

75 महिलाओं से किया सीधा संवाद

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मुख्य मंच के बगल में बनी प्रदर्शनी दीर्घा में अलग से उन 75 महिलाओं से खास बातें करने पहुंचे, जिन्होंने सरकारी योजना के जरिये ना सिर्फ अपनी बेरोजगारी दूर की, बल्कि अपने आसपास की गरीब महिलाओं को भी आत्मनिर्भर बना सफलता की अलग कहानी लिखी।

इसे भी पढ़ें:

काशी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक दिन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button