अयोध्या राम जन्मभूमि में श्रीरामलला का 73वाँ प्राकट्योत्सव

अयोध्या: मंगलवार को श्रीराम जन्मभूमि मंदिर में विराजमान प्रभु श्रीरामलला का 73वाँ प्राकट्य महोत्सव श्रीराम जन्मभूमि सेवा समिति द्वारा मनाया जा रहा है, जिसमें प्रथम दिवस वेद संहिताओं का पाठ व रामार्चा पाठ प्रभु श्रीरामलला के समक्ष संपन्न हुआ।

आपको बताते चलें कि पौष शुक्ल तृतीया 1949 को ही श्रीराम जन्मभूमि सेवा समिति द्वारा श्रीराम जन्मभूमि मंदिर में विराजमान प्रभु श्रीरामलला का प्राकट्य व मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा की गयी थी, जिसके प्रत्येक वर्षगांठ पर समिति पौष शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को श्रीराम जन्मभूमि मंदिर में विराजमान प्रभु श्रीरामलला का प्राकट्य महोत्सव अनवरत मनाती आ रही है।

इस वर्ष समिति के कार्यक्रम में, महंत गिरीश दास, महंत सत्येन्द्र दास वेदांती, अच्युत शंकरशुक्ल, समाजसेवी करन त्रिपाठी, राजेंद्र कुमार चौबे, शिवकुमार शास्त्री, रमेश त्रिपाठी, आचार्य संतोष वैदिक, आचार्य कुलदीप, उमेश पाण्डेय, प्रवीन चतुर्वेदी आदि समिति से संबंधित पदाधिकारी उपस्थित रहे।

इस वर्ष समिति के कार्यक्रम में, महंत गिरीश दास, महंत सत्येन्द्र दास वेदांती, अच्युत शंकरशुक्ल, समाजसेवी करन त्रिपाठी, राजेंद्र कुमार चौबे, शिवकुमार शास्त्री, रमेश त्रिपाठी, आचार्य संतोष वैदिक, आचार्य कुलदीप, उमेश पाण्डेय, प्रवीन चतुर्वेदी आदि समिति से संबंधित पदाधिकारी उपस्थित रहे।

प्रथम दिन समिति के सदस्यों द्वारा गर्भगृह में कलश स्थापना किया गया व द्वितीय दिन दिनांक 5 जनवरी 2022 को विशाल शोभा यात्रा निकाली जाएगी, जो कि क्षीरेश्वर नाथ मंदिर के समीप श्रीराम जन्मभूमि संपर्क मार्ग से प्रारम्भ होकर श्रीराम जन्मभूमि चुतर्दिश मार्गों की परिक्रमा करते हुए वापस श्रीराम जन्मभूमि संपर्क मार्ग पर समाप्त होगी।

इसे भी पढ़ें:

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button