ज्योतिर्मठ में लक्ष्नामीरायण भगवान के रूप में पूजे गए दंपति

जोशीमठ, चमोली, उत्तराखंड. ज्योतर्मठ परिसर में तीन दिवसीय एक सहस्त्र दंपति पूजन कार्यक्रम आज से प्रारंभ हो गया है।

यह कार्यक्रम 18 फरवरी तक आयोजित किया जाएगा। पेनखंडा क्षेत्र के 1000 दंपतियों का गुप्त नवरात्रि के अवसर पर पूजन किया जाएगा। यह धार्मिक अनुष्ठान ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती जी के आशीर्वाद एवं पावन सानिध्य में आयोजित किया जा रहा है। आज पहले दिन दम्पति (पति-पत्नि) की सविधि पूजा की गई । जिसमें भारी संख्या में आस्तिक जन उपस्थित रहे ।

ज्योतिर्मठ में दंपत्ति पूजन
ज्योतिर्मठ में दंपत्ति पूजन

ज्योतिर्मठ के प्रभारी मुकुन्दानन्द ब्रह्मचारी के दिशा निर्देशन में पूजा शुरु हुई । इसको लेकर भक्तों में खासा उत्साह देखा जा रहा है । लोगों का कहना है कि हमने ऐसी पूजा पहली बार देखी । दम्पति पूजा की शुरुआत श्रीमति नीलम परमार और धीरेन्द्र परमार की पूजा से हुई । पूजा की शुरुआत में सबसे बुजुर्ग के रूप में नौग के निवासी 80वर्षीय श्रीमति दमयन्ती देवी- श्रीमान सुरेन्द्र सिंह नेगी ने उपस्थित होकर पूजा स्वीकार की ।

सभी कार्यक्रम में उपस्थित रहे सर्वश्री विष्णुप्रियानन्द ब्रह्मचारी व्यवस्थापक ज्योतिर्मठ, भगवतीप्रसाद नम्बूरी अध्यक्ष देवपुजाई समिति, शिवानन्द उनियाल, महिमानन्द उनियाल, अभिषेक बहुगुणा, संतोष सती, वैभव सकलानी, संजय डिमरी, शुभम रावत, हरीश चन्द्र सती, विक्रम फर्स्वाण, सरिता उनियाल ऊषा उनियाल, आरती उनियाल, समीर डिमरी, आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

9 − 2 =

Related Articles

Back to top button