Airtel ग्राहकों के लिये महंगाई की एक और मार, एयरटेल टैरिफ में 20-25% तक का इजाफा

अभी एयरटेल के प्रीपेड ग्राहकों को 28 दिनों के लिए कम से कम 79 रुपये का रिचार्ज कराना होता है लेकिन नए टैरिफ लागू होने के बाद यह 99 रुपये का हो जाएगा.

बढ़ती महंगाई की मार अब एयरटेल ग्राहकों पर और भी गहरी पड़ने वाली है. पेट्रोल, डीजल, खाद, सब्जियों के साथ साथ अब एयरटेल ग्राहकों के लिये फोन पर बातचीत करना और इंटरनेट का इस्तेमाल भी महंगा होने वाला है. आने वाले 26 नवंबर से एयरेटल के प्रीपेड ग्राहकों के लिये नई टैरिफ दरें लागू कर दी जायेंगी.

मीडिया स्वराज डेस्क

भारती एयरटेल (Bharti Airtel) के प्रीपेड ग्राहकों को बड़ा झटका लगने वाला है. एयरटेल ने टैरिफ में 20-25 फीसदी की बढ़ोतरी का ऐलान किया है. यह बढ़ोतरी विभिन्न प्रीपेड प्लान में होगी जिसमें वॉयस प्लान, अनलिमिटेड बंडल्ड वॉयस प्लान और डेटा टॉप अप शामिल हैं यानी कि कॉलिंग से लेकर डेटा सबका इस्तेमाल महंगा होने वाला है. कंपनी ने जानकारी दी है कि नए टैरिफ 26 नवंबर से प्रभावी हो जाएंगे. एयरटेल ने एंट्री-लेवल टैरिफ्ड वॉयस प्लान में करीब 25 फीसदी और अधिकतर अनलिमिटेड वॉयस बंडल्स में करीब 20 फीसदी की बढ़ोतरी का ऐलान किया है.

सिर्फ इनकमिंग कॉल जारी रखने के लिए भी न्यूनतम रिचार्ज कराना अनिवार्य होता है. अभी एयरटेल के प्रीपेड ग्राहकों को 28 दिनों के लिए कम से कम 79 रुपये का रिचार्ज कराना होता है लेकिन नए टैरिफ लागू होने के बाद यह 99 रुपये का हो जाएगा. 99 रुपये के रिचार्ज में ग्राहकों को 28 दिनों के लिए 99 रुपये का टाकटाइम, 200 एमबी डेटा और 1 पैसे प्रति सेकंड का वॉयस टैरिफ मिलेगा. इसके अलावा अनलिमिटेड वॉयस बंडल्स और डेटा टॉप अप्स के रिचार्ज भी 26 नवंबर से महंगे हो जाएंगे. नीचे लिस्ट मेें देख सकते हैं कि नई दरें क्या होंगी-

टेलीकॉम कंपनी ने कहा कि उसने हमेशा प्रति यूजर मोबाइल एवरेज रेवेन्यू (ARPU) कम से कम 200 रुपये पर बनाए रखा है और इसे 300 रुपये तक किया जाना है. ऐसा इसलिए किया जाता है ताकि कंपनी ने जो पूंजी निवेश किया है, उस पर इतना रिटर्न मिल सके कि कंपनी का बिजनस मॉडल वित्तीय तौर पर हेल्दी बना रहे. एयरटेल ने अपने बयान में कहा है कि नए टैरिफ के बाद जो एआरपीयू लेवल होगा, उससे नेटवर्क व स्पेक्ट्रम में निवेश करने की कंपनी की क्षमता बेहतर होगी. इसके अलावा इससे एयरटेल को देश में 5जी शुरू करने के लिए मजबूती मिलेगी.

इसे भी पढ़ें:

केंद्र सरकार का बजट 2021-22 आम लोगों को निराश करने वाला

Leave a Reply

Your email address will not be published.

two × 1 =

Related Articles

Back to top button