हर हिंदुस्तानी का अभिमान हिंदी…

मस्तक का श्रृंगार बिंदी
माँ भारती का शृंगार हिंदी
माँ बागीश्वरी के वीणा की मधुर झंकार हिंदी
सूर,जायसी,तुलसी के गीतों की बहार हिंदी
ज्ञान का भंडार हिंदी
संस्कारो की खान हिंदी
दुश्मनों की ललकार हिंदी
विजयघोष का नाद हिंदी
नवरसों का सार हिंदी
प्रेम व्यक्त करने का आधार हिंदी
दुख की करुण पुकार हिंदी
वन्देमातरम की हुँकार हिंदी
रस समास छंदों में लिपटी हिंदी
मीठी सरस् सुहावन हिंदी
हम सबकी है शान हिंदी
हर हिंदुस्तानी का अभिमान हिंदी

उपनिषद व्यावहारिक ज्ञान के भंडार(Opens in a new browser tab)

जयश्री श्रीवास्तव
जया मोहन
वरिष्ठ साहित्यकार
पूर्व सहायक सचिव माध्यमिक शिक्षा परिषद
प्रयागराज
विभिन विधाओं की 27 किताबें प्रकाशित।आकाशवाणी से गीत कहानी प्रसारित

Leave a Reply

Your email address will not be published.

5 + four =

Related Articles

Back to top button