यूपी किसानों को बिजली बिल में राहत : आधा हो जाएगा बिल

विपक्षी समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी के दबाव में फ़ैसला

UPAssemblyElection2022 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधान सभा चुनाव से पहले यूपी किसानों को बिजली बिल में राहत दी है।

एक सरकारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार चालू माह से ग्रामीण क्षेत्र में मीटर्ड, अनमीटर्ड, एनर्जी एफिशियन्ट पम्प और शहरी क्षेत्रों के मीटर्ड नलकूपों के इस्तेमाल पर किसानों का बिजली बिल वर्तमान की तुलना में आधा हो जाएगा ।सीएम योगी के फैसले से 13 लाख किसानों को होगा सीधा फ़ायदा

यूपी किसानों को बिजली बिल में राहत, मुख्यमंत्री योगी
मुख्यमंत्री योगी

अनुमान के मुताबिक बिजली बिल में छूट की इस नई व्यवस्था से उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन लिमिटेड पर लगभग रूपये 1000 करोड़ प्रतिवर्ष का अतिरिक्त वित्तीय भार आएगा। इसके लिए राज्य सरकार ने यूपीपीसीएल को अनुदान देने का फैसला किया है। नए निर्णय के बारे में गुरुवार को मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर जानकारी दी।

सरकार से अनुदान मिलने के बाद बिजली दरों में बदलाव होगा। प्रस्तावित नई दरों के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्र में मीटर्ड कनेक्शन पर अभी जहां ₹2/यूनिट की दर से बिल देना होता है वहीं अब मात्र ₹1/यूनिट देना होगा। इस कनेक्शन के लिए फिक्स चार्ज ₹70 की जगह ₹35/हॉर्स पॉवर लगेगा। इसी तरह, अनमीटर्ड कनेक्शन के लिए फिक्स चार्ज ₹170/प्रति हॉर्सपावर की जगज ₹85 की दर से देय होगा। वहीं एनर्जी एफिशियन्ट पम्प के लिए अभी जहां ₹1.65/यूनिट की दर से (फिक्स चार्ज ₹70/हॉर्सपावर) चार्ज लगता है, वहीं किसानों को अब मात्र ₹0.83/यूनिट ((फिक्स चार्ज ₹35/हॉर्सपावर) ही देना होगा।

वहीं शहरी क्षेत्र के मीटर्ड कनेक्शन वाले निजी नलकूपों के लिए ₹6/यूनिट की दर (फिक्स चार्ज ₹130/हॉर्सपावर) की जगह किसानों को अब मात्र ₹3/यूनिट ((फिक्स चार्ज ₹65/हॉर्सपावर) ही देना होगा। मुख्यमंत्री के इस निर्णय से निजी नलकूप के लगभग 13 लाख उपभोक्ताओं को सीधा लाभ होगा।

समझा जाता है कि भाजपा सरकार ने विपक्षी समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी के दबाव में यह फ़ैसला किया है। दोनों दलों ने तीन सौ यूनिट तक बिजली बिल माफ़ करने का वादा किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − 10 =

Related Articles

Back to top button