यूपी में 60 साल के किसान ने मंच पर जाकर BJP विधायक को थप्पड़ जड़ दिया, MLA ने चाचा बताया

BJP विधायक को थप्पड़

उन्नाव: यूपी में किसानों का गुस्सा BJP विधायक को थप्पड़ (BJP MLA Slapped by a farmer) के रूप में सामने आ रहा है। किसानों का गुस्सा यूपी में बीजेपी नेताओं पर किस कदर फूट रहा है, इसका अंदाजा दो दिनों पहले बुधवार को माखी थाना क्षेत्र के ऐरा भदियार में घटी थप्पड़ वाली घटना (BJP MLA Slapped by a farmer) से लगाया जा सकता है। वहां एक 60 वर्षीय किसान, जिसके एक हाथ में डंडा था, और सिर पर भारतीय किसान यूनियन की टोपी थी, ने मंच पर आकर BJP विधायक को थप्पड़ जड़ दिया।

उन्नाव में सदर सीट से BJP विधायक पंकज गुप्ता को एक किसान ने जनसभा मंच पर सबके सामने थप्पड़ (BJP MLA Slapped by a farmer) जड़ दिया। विधायक गुप्ता यहां अमर शहीद गुलाब सिंह लोधी की जयंती कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे, जहां जनसभा का कार्यक्रम भी था। विधायक मंच पर थे, तभी बुजुर्ग किसान उनके नजदीक पहुंचा और थप्पड़ जड़ दिया। कार्यक्रम में सांसद साक्षी महाराज भी मौजूद थे।

हालांकि, उन्नाव से बीजेपी सदर विधायक पंकज गुप्ता ने थप्पड़ प्रकरण वीडियो के वायरल होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मामले में सफाई देना शुरू कर दिया है। विधायक ने कहा कि थप्पड़ मारने वाले किसान उनके चाचा की तरह हैं। विधायक पंकज गुप्ता ने कहा कि वीडियो को गलत तरीके से वायरल किया जा रहा है। विरोधियों के पास कोई मुद्दा नहीं है इसलिये वे इस तरह की बातें करके पार्टी को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं।

विधायक पंकज गुप्ता ने आगे कहा कि सदर विधानसभा में विरोधियों को ढूंढने पर भी कोई प्रत्याशी नहीं मिल रहा है। इसलिए वे इस तरह के कुचक्र रच रहे हैं। वहीं, 60 वर्षीय उस किसान ने भी कहा है कि उसने प्यार से विधायक को टीप मारी थी। प्रेस कांफ्रेंस में विधायक के साथ थप्पड़ मारने वाले किसान भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि विधायक को उन्होंने प्यार से टिप मारी थी, लेकिन बेवजह इसे मुद्दा बना दिया गया।

पहले तो किसी को कुछ समझ में नहीं आया, हालांकि पुलिस वाले हरकत में आए और जबरन किसान को मंच से नीचे उतारा। हालांकि, अभी तक किसान ने थप्पड़ क्यों मारा, इसका कारण पता नहीं चल पाया है, लेकिन आश्चर्य यह है कि एक चैनल से बातचीत में विधायक ने थप्पड़ मारने वाली बात से इंकार कर दिया। उन्होंने कहा कि जनसभा में ऐसा कुछ भी नहीं हुआ था।

किसान नेता बताया जा रहा बुजुर्ग

थप्पड़ मारने वाला बुजुर्ग किसान नेता है। उसका नाम छत्रपाल बताया जा रहा है। स्थानीय लोगों की मानें तो वे अपनी फसलों को सर्द रातों में खेतों में रात दिन मेहनत कर रखवाली कर रहे हैं। सैकड़ों की संख्या में घूमने वाले आवारा जानवर उनकी फसल नष्ट कर देते हैं। इसी बात से नाराज होकर किसान ने यह कदम उठाया। फिलहाल अभी किसान का पता नहीं चल सका है।

75 लाख के डिफॉल्टर रह चुके हैं सदर विधायक

बता दें कि भाजपा विधायक पंकज गुप्ता पहले भी चर्चा में रहे हैं। 30 जुलाई 2020 को रात करीब 2 बजे विधायक पंकज गुप्ता पुलिस के खिलाफ कोतवाली में धरने पर बैठ गए थे। उन्होंने सीओ सिटी पर सपा मानसिकता से काम करने का आरोप लगाया था। सदर विधायक समर्थकों के साथ सुबह 5 बजे तक धरने पर बैठे रहे। डीएम और एसपी के कोतवाली पहुंचने पर धरना खत्म हुआ था।

वहीं, 19 मार्च 2020 को विधायक को एक बैंक ने डिफॉल्टर घोषित कर किया था। विधायक पर आरोप था कि 2013 में विधायक पंकज गुप्ता ने कोआपरेटिव बैंक से 2.25 करोड़ रुपये का कर्ज लिया था, मगर 75 लाख रुपये का ब्याज नहीं चुकाया। लिहाजा बैंक ने कार्रवाई करते हुए बीजेपी विधायक पंकज गुप्ता को 75 लाख रुपये का डिफॉल्टर घोषित किया था।

इसे भी पढ़ें:

मिशन 2022 को पूरा करने अयोध्यावासियों के बीच पहुंचे विधायक वेद प्रकाश गुप्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − 4 =

Related Articles

Back to top button