UPElection2022 News in Brief

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की हलचल 2 फरवरी

UPELection2022 Latest News (February 02 Latest UP News) : उत्तर प्रदेश में चुनावी हलचल जोरों पर है. हर रोज कुछ न कुछ नई घटनायें यहां हो रही हैं, जिनके बारे में जानना हमारे लिये जरूरी हो जाता है. कम शब्दों में आप यूपी की सभी नई राजनीतिक घटनाओं से रूबरू होते रहें, इसलिये ​फटाफट पढ़िये ये खबरें…

सपा प्रत्याशी अभय सिंह व भाजपा प्रत्याशी आरती तिवारी के समर्थक विकास सिंह का काफिला टकराया

अयोध्या: सपा प्रत्याशी अभय सिंह व भाजपा प्रत्याशी आरती तिवारी के समर्थक विकास सिंह का काफिला टकराया. दोनों पक्षों में कहासुनी हुई. अभय सिंह के काफिले में शामिल वाहन पर पथराव का आरोप है. सपा प्रत्याशी अभय सिंह भागकर महाराजगंज थाने पहुंचे और थाना अध्यक्ष दिनेश सिंह को सारी वारदात की जानकारी दी.

खबर है कि देर रात तक थाना महाराजगंज स्थित कनकपुर के पास दोनों पक्षों का काफिला टकराया था, जब दोनों पक्ष चुनाव प्रचार में लगे हुये थे. बता दें कि दोनों ही गोसाईगंज विधानसभा से प्रत्याशी हैं. विकास सिंह गोसाईगंज से भाजपा प्रत्याशी आरती तिवारी के समर्थक हैं. आरती तिवारी, खब्बू तिवारी की पत्नी हैं.

मनोज पाण्डेय से भिड़ेंगे अमर पाल मौर्य

भाजपा ने अपने प्रदेश महामंत्री अमरपाल मौर्य को चुनावी मैदान में ऊंचाहार से उतार दिया है. इससे पहले इनका नाम BKT से भी चल रहा था. अब मनोज पाण्डेय से अमर पाल मौर्य से भिड़ेंगे.

भाजपा ने हृदयनारायण दीक्षित का भी टिकट काटा

विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित का भाजपा ने भगवंत नगर से टिकट काट दिया है. पार्टी ने उनके पुत्र को भी टिकट नहीं दिया है. वहीं, हृदय नारायण दीक्षित खेमे से अलग आशुतोष शुक्ल को भाजपा ने टिकट दिया.

नोएडा में पूर्व IPS के घर आयकर विभाग के छापे

नोएडा में आयकर विभाग की छापेमारी. पूर्व IPS के घर 5.70 करोड़ कैश बरामद. IT टीम को बेसमेंट में 650 लॉकर मिले.

आईपीएस राजेश्वर सिंह को सरोजिनी नगर से टिकट

पूर्व ज्वाइंट डायरेक्टर ईडी राजेश्वर सिंह भारतीय जनता पार्टी के सरोजिनी नगर (लखनऊ) विधान सभा क्षेत्र से प्रत्याशी घोषित हो चुके हैं. वर्तमान में उनकी पत्नी लक्ष्मी सिंह IPS लखनऊ में IG के पद पर तैनात हैं, चुनाव आयोग आज उनका अन्यत्र ट्रांसफर कर सकता है.

बीजेपी ने मंत्री स्वाति सिंह का टिकट काटा. ईडी के ज्वाइंट डायरेक्टर रहे राजेश्वर सिंह को सरोजिनी नगर से पार्टी ने टिकट दिया. स्वाति के टिकट कटने से खुश दयाशंकर बोले राज राजेश्वर सिंह को जिताने के लिए पूरी ताकत लगा देंगे.

बहुचर्चित सरोजिनीनगर विधानसभा सीट पर यूपी सरकार में मंत्री स्वाति सिंह और उनके पति दयाशंकर सिंह के बीच टिकट को लेकर रस्साकसी के बीच पार्टी ने राजराजेश्वर सिंह को उतार दिया. इस बीच पत्रकारों से बातचीत करते हुए दयाशंकर सिंह ने राजराजेश्वर सिंह को टिकट मिलने पर बेहद खुशी जताई है. उन्होंने कहा कि वे राजेश्वर सिंह को जिताने के लिए पूरी ताकत लगा देंगे. उन्होंने आगे कहा कि राजेश्वर सिंह भी बलिया से हैं और वे भी वहीं से आते हैं इसलिए दोनों के बीच पारिवारिक संबंध भी हैं.

बीजेपी ने लखनऊ की कई सीटें घोषित कीं

बृजेश पाठक सुरक्षित कैन्ट सीट पर पहुँचे. वे लखनऊ महानगर के महामंत्री रहे हैं. लखनऊ कैंट सीट से बृजेश पाठक को पार्टी की ओर से प्रत्याशी बनाया गया है. वहीं, लखनऊ मध्य से रजनीश गुप्ता को टिकट दिया गया है. बीकेटी से योगेश शुक्ला को बीजेपी ने ​पार्टी का टिकट दिया है. वहीं, लखनऊ पूर्व से आशुतोष टंडन को टिकट दिया गया.
बीजेपी ने लखनऊ पश्चिम से अंजनी श्रीवास्तव, मोहनलालगंज से अमरेश कुमार को प्रत्याशी बनाया गया है. हालांकि भाजपा की अब तक की सबसे महत्वपूर्ण सूची में मंत्री स्वाति सिंह का टिकट कटने को बताया जा रहा है. सरोजिनीनगर से राजेश्वर सिंह को बीजेपी ने टिकट दिया है.

29 जनवरी से चल रही है आयकर की चेकिंग

मानसम नॉएडा वाल्ट पर आयकर विभाग के चेकिंग के संदर्भ में आजकल समाचारों में काफ़ी कुछ बिना तथ्यों के, केवल अंदाज़ पर कहा जा रहा है. मेरे पास से भारी मात्रा में पैसा बरामदगी से लेकर मेरे पार्टी विशेष से राजनैतिक सम्बंध के बारे में अनुमान लगाए जा रहे हैं.

कुछ लॉकर होल्डर ने चेकिंग में सहयोग नहीं किया. उनके लॉकर की चेकिंग अधिकारियों द्वारा नियमानुसार सर्च वारंट ले कर की गयी. अभी तक कुल लगभग 6 करोड़ रुपये और कुछ ज़ेवरात बरामद होने की बात मुझे पता चली है. यद्यपि कि सही जानकारी सम्बंधित अधिकारियों द्वारा चेकिंग पूरा होने पर दी जाएगी परंतु इन बरामदगियों से मेरा या मेरे परिवार का कोई दूर दूर का भी सम्बंध नहीं है. बरामदगी से जुड़े व्यक्तियों के बारे में आयकर अधिकारी ही बताएँगे.

वॉल्ट के व्यापार में इस प्रकार की चर्चा की सम्भावनाएँ काफ़ी हैं. यह वाल्ट नॉएडा में मेरे आवासीय भवन के बेसमेंट में स्थित है. मेरी पत्नी शशि सिंह की फ़र्म है. मेरे बेटे इसे उनकी ओर से चलाते हैं. सभी क़ानूनी ज़रूरतों को पूरा करता है. आयकर की चेकिंग 29 जनवरी से चल रही है. अधिकांश लॉकर होल्डर ने आयकर विभाग से सहयोग किया. मेरे परिवार के भी दो लॉकर थे. मेरी पत्नी के लाकर की चाबी गाँव पर हम लोगों के पास थी और छोटे बेटे के लॉकर की चाबी नोएडा में उसी के पास. 30 जनवरी को अपनी पत्नी के लॉकर की चाबी ले कर मैं नोएडा गया. इन दोनों लॉकर के बारे में आवश्यक जानकारी उन्हें दी गयी. उन्होंने उससे संतुष्टि व्यक्त की.

कुछ लॉकर होल्डर ने चेकिंग में सहयोग नहीं किया. उनके लॉकर की चेकिंग अधिकारियों द्वारा नियमानुसार सर्च वारंट ले कर की गयी. अभी तक कुल लगभग 6 करोड़ रुपये और कुछ ज़ेवरात बरामद होने की बात मुझे पता चली है. यद्यपि कि सही जानकारी सम्बंधित अधिकारियों द्वारा चेकिंग पूरा होने पर दी जाएगी परंतु इन बरामदगियों से मेरा या मेरे परिवार का कोई दूर दूर का भी सम्बंध नहीं है. बरामदगी से जुड़े व्यक्तियों के बारे में आयकर अधिकारी ही बताएँगे.

मैं इतना अवश्य कहूँगा कि आयकर विभाग के सम्बंधित अधिकारियों के व्यवहार तथा कार्य करने का तरीक़ा काफ़ी संतोष जनक है. मीडिया के तमाम उकसावे और कुछ लॉकर होल्डरों के असहयोग के बीच वे अपना कार्य प्रोफ़ेसनल तरीक़े से कर रहे हैं।

राम नारायण सिंह
लखनऊ
२/२/२२ प्रातः
राम नारायण सिंह, पूर्व पुलिस महानिदेशक, अभियोजन, उत्तर प्रदेश का बयान

Leave a Reply

Your email address will not be published.

sixteen − 1 =

Related Articles

Back to top button