UP Assembly Election 2022 : भाजपा का सामाजिक सामाजिक गँठजोड़ सिकुड़ रहा है

भाजपा का सामाजिक गँठजोड़ सिकुड़ रहा है

UP Assembly Election 2022 : भाजपा का सामाजिक सामाजिक गँठजोड़ सिकुड़ रहा है – यह कहना है देश के जाने माने राजनीतिक विश्लेषक अभय कुमार दुबे का। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या भाजपा पश्चिम में हुए नुक़सान की  भरपाई आगे कर पायेगी . क्या पूरब में भाजपा के लिए और मुश्किल होगी!

वरिष्ठ पत्रकार और जाने माने राजनीतिक विश्लेषक अभय दुबे ने  राम दत्त त्रिपाठी से बातचीत में कहा कि यूपी में double anti- incumbency ( सत्ता विरोधी रुझान) है।

यानी डबल इंजिन सरकार का लाभ मिलने के बजाय डबल नुक़सान ज़्यादा हो रहा है। भाजपा का सामाजिक गँठजोड़ सिकुड़ रहा है। इसका क्या परिणाम हो सकता है अनुमान लगाया जा सकता है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.

fifteen + 12 =

Related Articles

Back to top button