गंगा नदी पर दुनिया का सबसे छोटा ब्रिज कहाँ?


जी हाँ किसी भी बड़ी नदी पर दुनियाँ का सबसे छोटा पुल माँ गंगा नदी पर बना है उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में वो भी गंगोत्री में।
माँ गँगा नदी के उदगम गंगोत्री गोमुख से गँगासागर तक के 2525 किलोमीटर के सफर में कई बड़े बड़े पुलों के नीचे से होकर गुजरती है गँगा नदी। लेकिन अपने उदगम गंगोत्री में माँ गँगा अपना 2 किलोमीटर का सफर गहरी संकरी खतरनाक घाटी में तय करती है। कहीं कहीं पर इतनी गहरी संकरी घाटी से होकर गुजरती है जहाँ से इसको लांघ कर भी पार किया जा सकता है। गंगोत्री में एक जगह तो माँ गंगा दो कठोर पहाडों के बीच मात्र 1 मीटर की चौड़ाई में ही गहरी घाटी से होकर बह रही है और दोनों पहाड़ियों के बीच में एक पत्थर बीच मे फंसा पड़ा है जो सेतु का काम करता है लेकिन इस जगह तक पहुंचना बहुत ही खतरनाक व असम्भव है।।
“””””इस तस्बीर से आपको आगे की पोस्ट में अवगत कराऊंगा”‘””।।
पहले दुनियाँ के सबसे छोटे पुल पर आपको लिए चलता हूँ समुद्रतल से 3140 मीटर की ऊँचाई पर माँ गँगा के धाम गंगोत्री में। सूर्यकुंड में स्वम्भू शिवलिंग में सम्पूर्ण समर्पित होने के बाद माँ गंगा का लगभग 2 किलोमीटर का सफर गहरी तंग संकरी खतरनाक घाटी से होकर पूरा होता है। सूर्यकुंड के समीप ही मात्र गँगा जी 2 मीटर की चौड़ाई वाली घाटी से होकर गुजरती है। इसी जगह बना है दुनियाँ का सबसे छोटा ब्रिज। जिसकी चौड़ाई मात्र 5 मीटर ही है। हालांकि गँगा नदी का ओरिजनल स्पान यहां पर मात्र 2 मीटर है। इसके आगे गँगा नदी और भी गहरी संकरी खतरनाक घाटी से होकर गुजरती है। सूर्यकुंड से 1 किलोमीटर आगे गौरीकुंड के पास पहुंचना बहुत ही खतरनाक है।।
यूँ तो गंगा नदी पर कई गंगोत्री से लेकर गंगासागर तक कई विशाल ब्रिज बने हुए हैं जिनमे से एक है कच्ची दरगाह बिदुपुर ब्रिज जिसकी लम्बाई 9.76 किमी है।

दुनिया का सबसे छोटा ब्रिज गंगोत्री में


गंगा नदी पर कच्ची दरगाह बिदुपुर पुल का निर्माण कार्य चल रहा है। कच्ची दरगाह बिदुपुर पुल भारत में सबसे लंबा नदी सड़क पुल होगा ।।वर्तमान में असम में भूपेन हजारिका सेतु भारत में सबसे लंबा पुल है ।

लोकेंद्र सिंह बिष्ट
प्रदेश संयोजक ,उत्तराखंड।।
गँगा विचार मंच NMCG
जलशक्ति मंत्रालय, भारत सरकार।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button