उत्तर प्रदेश में NCP की एंट्री, शरद पवार अखिलेश संग मिलकर लड़ेंगे चुनाव

उत्तर प्रदेश में हालात खराब हैं और जनता बदलाव चाहती है

उत्तर प्रदेश में NCP: आगामी UP विधानसभा चुनाव में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (Nationalist Congress Party) एनसीपी प्रमुख और कद्दावर नेता शरद पवार (Sharad Pawar) ने एंट्री करके सबको चौंका दिया है। ए​क प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन कर NCP प्रमुख शरद पवार ने खुद इस बारे में मीडिया को जानकारी दी। यूपी चुनावों को ध्यान में रखते हुये पवार ने कहा कि उत्तर प्रदेश में NCP समाजवादी पार्टी और दूसरी छोटी छोटी पार्टियों के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी।

पवार ने मीडिया को बताया कि हमारे कुछ साथियों ने कुछ समय पहले ही यूपी जाकर समाजवादी पार्टी के नेता और भूतपूर्व मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी। वहीं पर यह तय हुआ था कि इस बार यूपी विधानसभा चुनाव हम भी लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि अपने कई साथियों से चर्चा के बाद हम इस नतीजे पर पहुंचे कि उत्तर प्रदेश में हालात खराब हैं और जनता बदलाव चाहती है।

कांग्रेस MLC रह चुके हैं सिराज मेहंदी

इसी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा कि उत्तर प्रदेश के एक नेता, जो MLC रह चुके हैं, अल्पसंख्यक नेता के तौर पर 40 साल तक उन्होंने उत्तर प्रदेश में काम किया है, आज वो एनसीपी में शामिल होंगे। उनके साथ जो लोग थे, वो भी हमारी पार्टी में शामिल होंगे।

इसके बाद शरद पवार ने कहा कि उत्तर प्रदेश में परिवर्तन के लिए कुछ पार्टियों को संगठित कर जनता को हमारी ओर से एक विकल्प देने की कोशिश होगी। मुझे खुशी है कि सिराज मेहंदी ने एनसीपी में शामिल होने का फैसला किया। आज उत्तर प्रदेश के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने इस्तीफा देकर समाजवादी पार्टी ज्वाइन कर लिया। कई और विधायक भी उनके साथ सपा में आने की तैयारी कर चुके हैं। आने वाले दिनों में और भी लोग समाजवादी पार्टी में शामिल होंगे।

यूपी में चल रहा कम्युनल पोलराइजेशन का काम

पवार ने प्रेस कांफ्रेंस में आगे कहा कि यूपी में अब लोग परिवर्तन चाहते हैं। जिस तरह की बात कही गई, लोगों को उन पर भरोसा नहीं है। जिन पार्टियों के पास संसाधन हैं, आर्थिक ताकत है, ऐसे लोग दूसरे माध्यम से चुनाव प्रचार कर रहे हैं। इसके अलावा मैं कुछ कहना नहीं चाहता हूं। चुनाव आयोग ने निर्णय लिया है कि 15 तारीख तक प्रचार नहीं होगा।

शरद पवार ने कहा कि यूपी चुनाव में कम्युनल पोलराइजेशन का काम चल रहा है। अयोध्या के मामले में अदालत का निर्णय आया है, जिसे हम सभी ने स्वीकार किया। इसके बाद नए नए मुद्दों को जानबूझकर उछाला जा रहा है और इसे पोलराइज करने की कोशिश की जा रही है। जनता इसका भी जवाब देगी।

सीएम योगी के 80-20 फॉर्मूले को लेकर पवार ने दिया जवाब

शरद पवार ने सीएम योगी के 80-20 वाले विवादित फॉर्मूले का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि, कल मैंने उत्तर प्रदेश के सीएम का बयान देखा कि 80 फीसदी हमारे साथ हैं, 20 फीसदी नहीं। मैं पूछना चाहता हूं कि यह 20 फीसदी कौन हैं? जो सीएम है, वो ऐसा नहीं कह सकता। सभी उनके होते हैं, 20 फीसदी हमारे नहीं हैं, यह कहना सीएम को शोभा नहीं देता, लेकिन इनकी विचारधारा ऐसी है इसलिए उन्होंने यह बयान दिया। अगर एकता को ताकत देना हो तो सभी वर्गों को साथ लेकर चलना होगा और किसी को छोड़ना सही नहीं है। उत्तर प्रदेश की जनता इसका जवाब देगी।

तीन राज्यों के चुनाव में उनकी पार्टी भी हिस्सा लेगी

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार ने प्रेस कांफ्रेंस में यह घोषणा भी की है कि पांच राज्यों में होने वाले आगामी विधानसभा चुनावों में से तीन राज्यों के चुनाव में इस बार उनकी पार्टी भी हिस्सा लेगी। कद्दावर नेता शरद पवार ने बताया है कि पांच में से तीन राज्यों में एनसीपी ने चुनाव लड़ने का मन बना लिया है। ​उन्होंने यह भी बताया​ कि मणिपुर में हुये पिछले विधानसभा चुनाव में एनसीपी की 4 सीटें थीं, इस बार कांग्रेस के साथ मिलकर हम पांच अन्य राज्यों में चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं।

इसे भी पढ़ें:

राहुल गांधी ने ट्वीट कर पीएम पर लगाये गंभीर आरोप

उन्होंने आगे कहा कि गोवा में कांग्रेस पार्टी, तृणमूल कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस के बीच बातचीत चल रही है। कुछ राज्यों में हम चुनाव लड़ना चाहते थे, जिसकी सूची हमने इन दोनों ही पार्टियों को दे दी है। इसका ऐलान अगले दो दिनों में हम कर देंगे।

पीएम की सुरक्षा के मुद्दे को गंभीर मानते हैं – शरद पवार

प्रधानमंत्री की सुरक्षा में हुई चूक मामले को लेकर भी शरद पवार ने जवाब दिया। उन्होंने कहा कि पीएम एक इंस्टीट्यूशन हैं, केंद्र सरकार हो या राज्य सरकार, उनकी सुरक्षा सभी की ज़िम्मेदारी है। हम इस सुरक्षा के मुद्दे को गंभीर मानते हैं। केंद्र और राज्य दोनों की यह जिम्मेदारी है। सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए एक कमिटी बनाई है, इसलिए इस पर किसी तरह की बयानबाजी मुझे ठीक नहीं लगती।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

11 − 1 =

Related Articles

Back to top button