मिशन प्रेरणा की प्रस्तावित कार्ययोजना का प्रस्तुतीकरण

मुख्य सचिव ने दिये कार्ययोजना के गुणवत्तापरक एवं समयबद्ध क्रियान्वयन के निर्देश

लखनऊ। मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में गठित टास्क फोर्स की बैठक में बेसिक शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार हेतु संचालित ‘मिशन प्रेरणा’का प्रस्तुतीकरण किया गया।

‘मिशन प्रेरणा’के अन्तर्गत क्रियान्वित किये जा रहे 10 हस्तक्षेपों-लर्निंग आउटकम्स के अनुश्रवण, शिक्षकों को समर्थन देने हेतु सर्पोटिव सुपर विजन एवं शिक्षक संकुल, हस्तपुस्तिकाओं तथा आनलाइन प्रशिक्षण के माध्यम से अध्यापकों की क्षमता संवर्धन, पाठ्य योजना एवं प्रिंटरिच सामग्री के कक्षा-कक्ष रूपान्तरण, विद्यालयों में अवस्थापना सुधार हेतु आपरेशन कायाकल्प, पूर्व-प्राथमिक शिक्षा में सुधार, अध्यापकों के सेवा प्रकरणों हेतु मानव सम्पदा पोर्टल, छात्रों का आधार नामांकन, दिव्यांग बच्चों तथा आउट आफ स्कूल बच्चों के लिए समावेशी शिक्षा और बेहतर प्रबन्धन हेतु विद्यालयों का संविलियन के बारे में प्रगति से अवगत कराया गया।

इसके अतिरिक्त प्रेरणा लक्ष्य, प्रेरणा घोषणा, प्रेरणा सूची, लर्निंग आउटकम्स की ट्रैकिंग हेतु त्रैमासिक मूल्यांकन परीक्षा व्यवस्था, लर्निंग आउटकम्स के नियमित अनुश्रवण हेतु प्रेरणा तालिका की संकल्पना एवं क्रियान्वयन से भी अवगत कराया गया।

मुख्य सचिव ने उक्त पर संतोष व्यक्त किया और इसे प्राथमिकता के आधार पर गुणवत्तापरक् एवं समयबद्ध क्रियान्वयन के निर्देश दिए।

बैठक में अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार, राज्य परियोजना निदेशक विजय किरन आनन्द सहित सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण आदि उपस्थित थे। बैठक का संचालन एवं प्रस्तुतिकरण राज्य परियोजना निदेशक विजय किरन आनन्द द्वारा किया गया।    

support media swaraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − 14 =

Related Articles

Back to top button