इस किले में मौजूद है पारस पत्थर, इज्सकी रक्षा करते है जिन्न

पारस पत्थर के बारे में बहुत से लोग जानते है. पारस पत्थर वह पत्थर है जिसे छूते ही लोहा सोना बन जाता है. इससे जुड़ी कई कहानियां भी आपने सुनी होगी. कहा जाता है कि आज तक इस पत्थर को कोई नहीं ढूंढ पाया.

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि दुनिया में एक किला ऐसा भी है, जहां पारस पत्थर मौजूद है. इसी वजह से हर साल लोग, यहां की खुदाई करने के लिए पहुंच जाते हैं. कहा जाता है कि भोपाल से 50 किलोमीटर दूर रायसेन के किले में पारस पत्थर मौजूद है.

साथ ही इस पत्थर को पाने के लिए कई युद्ध भी हुए लेकिन जब राजा को लगा कि वह इस पत्थर को खो सकता है तो उसने इस पत्थर को यहां मौजूद तालाब में फैंक दिया. राजा ने इस राज के बारे में किसी को नही बताया. तभी युद्ध के चलते उनकी मौत हो गई और किला एकदम विरान हो गया.

माना जाता है कि आज भी लोग रात के समय इस पत्थर की खोज करने के लिए अपने साथ तांत्रिकों को लेकर जाते है लेकिन किसी के हाथ कुछ नहीं लगता. बल्कि कई लोग यहां आकर अपना मानसिक संतुलन भी खो देते हैं क्योंकि इस पत्थर की रक्षा जिन्न करते है. हम आपको बता दें कि अभी तक इस बात की कोई पुष्टि नहीं हुई है लेकिन फिर भी लोग इस पत्थर की तलाश करते हैं.

support media swaraj

Related Articles

Back to top button