लखनऊ: नहीं थम रहा कोरोना का कहर, मंत्री भी चपेट में

लखनऊ.  राजधानी में कोरोना संक्रमण का प्रसार रुकने का नाम नहीं ले रहा है। बीते दो सप्‍ताह की बात करें तो कंटेनमेंट जोन की संख्‍या 70 से सीधे 127 पहुंच गई है। वहीं जिला प्रशासन की तमाम कोशिशों के बावजूद रोज नए केस सामने आ रहे हैं। शुक्रवार को भी केजीएमयू से जारी मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक लखनऊ में 43 कोरोना संक्रमित लोगों की पहचान हुई है। जिनमें पांच वर्षीय बालक से लेकर 80 वर्षीय महिला तक शामिल है। इसके अलावा गोमतीनगर के विपुल खंड में एक ही परिवार के तेरह लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।  वहीं अगर कोरोना संक्रमित लोगों की कुल संख्‍या की बात करें तो यहां 1192 कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं।  इनमें से 707 एक्टिव केस हैं। जबकि अब तक 22 लोग काल के गाल में समा चुके हैं। वहीं ताज़ा आंकड़ों की बात करें तो एसीपी ट्रैफिक कार्यालय के सात पुलिसकर्मियों में कोरोना की पुष्टि हुई है, जिसके बाद उन्हें चिकित्सीय सहायता मुहैया कराई गई है। आफिस को भी सील कर सैनिटाइज किया जा रहा है। वहीं 108 एम्बुलेंस के कार्मिकों में भी कोरोना की पुष्टि के बाद उन्हें क्वारंटाइन करते हुए आफिस को सैनिटाइज करने की कार्यवाही की जा रही है।

वहीं टीम योगी के खास आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी और उनकी पत्नी की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई है। इसके अलावा लखनऊ डिस्ट्रिक्ट कोर्ट को भी दो दिनों के लिए बंद कर सैनिटाइज किया जा रहा है। वहीं रविवार को केजीएमयू की माइक्रो बायोलॉजी लैब की रिपोर्ट के अनुसार राजधानी में 48 कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति मिले हैं। इन सभी को क्वारंटाइन किया गया है।

कोरोना संक्रमण के प्रसार के चलते लखनऊ यूनिवर्सिटी के कई प्रोफेसर और कर्मचारी क्वारंटाइन हैं। ऐसे में यूनिवर्सिटी प्रशासन ने शासन के अग्रिम आदेशों तक परीक्षा को निरस्त करने का आदेश जारी किया है।

मुख्‍य चिकित्‍साधिकारी डॉ नरेंद्र अग्रवाल ने बताया कि राजधानी में 127 कंटेनमेंट जोन चिन्हित हैं। इसके अलावा पूर्व में चिन्हित कंटेनमेंट जोन में से कुछ इलाकों को स्थिति सामान्‍य होने पर इस सूची से बाहर किया गया है। इनमें निशातगंज की गली नंबर पांच, इंदिरानगर ए ब्‍लाक का सील मकान सहित कुछ अन्‍य जगह शामिल हैं।

वहीं जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने बताया कि जनपद में अब तक 13 हजार लोगों का एक डेटाबेस तैयार किया जा चुका है। अब डोर टू डोर टेस्टिंग की तैयारी है। वहीं अलीगंज, महानगर,त्रिवेणीनगर, विकासनगर, मडियांव, गुडंबा, आईआईएम  रोड, डालीगंज में संक्रमण मुक्ति अभियान चलाया गया। इस दौरान 3263 घरों का भ्रमण किया गया। 13,075 लोगों का स्वास्थ्य ब्योरा जुटाया गया। इस दौरान कांटेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर 328 लोगों का सैंपल जुटाया गया है। हम लगातार संक्रमण रोकने के लिए कार्रवाई कर रहे हैं।

अब तक 127 इलाकों को कंटेनमेंट जोन बनाया जा चुका है। इनमें सेक्‍टर डी, एलडीए कॉलोनी आशियाना, रजनी खंड, सेक्‍टर जी, पराग डेरी, वृंदावन योजना, दरोगा खेडा, मुरली विहार, इंदिरानगर सेक्‍टर 10, इंदिरानगर सेक्‍टर 8, सुरेंद्र नगर, आशा अपार्टमेंट, तुलसीदास रोड, वाल्मिकी विहार आदि इलाके शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles