लखीमपुर खीरी में किसानों की जघन्य हत्या का आक्रोश मोदी-योगी हटाओ में मिशन में बदलेगा : दीपंकर भट्टाचार्य

किसान हत्याकांड के खिलाफ माले 7 से 13 अक्टूबर तक राष्ट्रीय प्रतिवाद सप्ताह मनाएगी



“किसान आन्दोलन और लोकतंत्र की आवाज को हत्या-दमन से नहीं रोका जा सकता है। यह आन्दोलन लगातार फैल रहा है। इसे मजदूरों, छात्र – नौजवानों व आम नागरिक समाजका व्यापक समर्थन मिल रहा है। लखीमपुर खीरी में किसानों की जघन्य हत्या के आक्रोश की परिणति मोदी-योगी हटाओ मिशन में होगी।”
यह बात भाकपा (माले) के राष्ट्रीय महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने बुधवार लखनऊ, 6 अक्टूबर को यूपी प्रेस क्लब (हजरतगंज) में आयोजित पत्रकार वार्ता में कही। उन्होंने कहा कि  लखीमपुर खीरी में किसानों की हत्या का बदला जनता उत्तराखंड, यूपी व पंजाब के विधानसभा चुनावों में भाजपा का सफाया कर लेगी। 
उन्होंने कहा कि भाजपा किसान आन्दोलन से डरी हुई है। बीते 3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी में किसानों को सबक सिखाने के लिए योगी सरकार की शह पर उन्हें गाड़ी से रौंद देने व गोली मारकर नृशंस हत्या करने वाली घटना को अंजाम दिया गया। इस हत्याकांड के खिलाफ माले 7 से 13 अक्टूबर तक राष्ट्रीय प्रतिवाद सप्ताह मनाएगी 
माले महासचिव ने कहा कि अब किसान आन्दोलन पंजाब, हरियाणा, दिल्ली से होकर यूपी व देश से जुड़ गया है। आन्दोलन की व्याकता मुजफ्फरनगर की किसान महापंचायत व 27 सितंबर के भारत बंद के रूप में हर हिस्से में दिखाई दी। लखीमपुर खीरी की घटना के पूर्व हरियाणा की खट्टर सरकार ने भाजपा कार्यकर्ताओं से ‘जैसे को तैसा’ से ठीक करने का निर्देश दिया था। 
माले नेता ने कहा कि मोदी सरकार राष्ट्रीय संपत्ति व देश का सौदा कर रही है। वहीं योगी सरकार त्योहार के मौसम में ‘हत्या का त्योहार’ मना रही है। सरकार ने विपक्ष के नेताओं को लखीमपुर जाने से प्रतिबंधित कर लोकतंत्र पर खुला हमला बोल दिया। 
कामरेड दीपंकर ने कहा कि बंगाल की जनता ने भाजपा को आने का कोई मौका नहीं दिया। आज किसानों के अलावा, मजदूर और छात्र-युवा विपक्ष की भूमिका में हैं। जनता के विभिन्न हिस्सों की आंदोलन में एकता बन रही है। यह एकता 2022 के विधानसभा चुनाव में यूपी में योगी की छुट्टी करने से शुरू कर 2024 में मोदी व भाजपा मुक्त भारत का निर्माण करेगी।
प्रेस वार्ता में पोलित ब्यूरो सदस्य व अखिल भारतीय खेत व ग्रामीण मजदूर सभा (खेग्रामस) के राष्ट्रीय महासचिव धीरेन्द्र झा, माले के प्रदेश राज्य सचिव सुधाकर यादव, केंद्रीय कमेटी सदस्य मोहम्मद सलीम, किसान महासभा के प्रदेश सचिव ईश्वरी प्रसाद कुशवाहा व खेग्रामस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीराम चौधरी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button