किआन फाउंडेशन है छोटी सी एक बड़ी पहल

किआन
पंकज प्रसून, वरिष्ठ पत्रकार

गाजियाबाद के उपनगर वैशाली स्थित रामप्रस्थ ग्रीन कालोनी के गरीब और वंचित बच्चे इस स्वतंत्रता दिवस को चमत्कृत रह गये जब उनसे अपनी कालोनी में झंडारोहण कराया गया।अगले दिन पूरी कालोनी में तुलसी पौधारोपण कार्यक्रम हुआ।

कोविड -19 से सुरक्षा के लिये कालोनी के सिक्योरिटी गार्ड्स के बीच तुलसी पौधे वितरित किये गये।

इन्हें किआन फाउंडेशन ने आयोजित किया था।जिसे इस वर्ष जनवरी में कुछ उत्साही लोगों ने स्थापित किया है। जिसके संस्थापक हैं अशोक गुप्ता जो अमरीकी दूतावास में स्टेशनरी आपूर्ति का बिजनेस करते हैं । उसके सह संस्थापक हैं पत्रकार कविता कुमार और सुश्री किरण मनोचा।

फाउंडेशन का कार्यालय पूर्वी दिल्ली के पटपड़गंज मुहल्ले में है और शीघ्र ही उसकी एक शाखा दक्षिण दिल्ली में भी खुलने जा रही है।

एक नज़र में यह साधारण सी बात लगती है। लेकिन यह एक असाधारण पहल है सामान्य लोगों द्वारा अपने सीमित संसाधनों से समाज के हाशिये पर खड़े उपेक्षित लोगों की मदद करने के हौसले की।

किआन भगवान विष्णु का एक नाम है । अमरीकी हिब्रू में इसका अर्थ होता है ईश्वर की अनुकम्पा से ।

कविता कुमार की माता जी विजया गुप्ता लक्ष्मी बाई कालेज में हिंदी की प्रोफेसर थीं और बाल साहित्य की मशहूर लेखिका हैं। इसलिये गरीब और वंचित बच्चों की मदद करने का जज्बा उनमें बचपन से है।

किआन फाउंडेशन समाज कल्याण के लिये कार्य करने वाले लोगों को अपने साथ जोड़ना चाहता है। संस्था के बारे में पूरी जानकारी निम्नलिखित मोबाइल नंबर पर संपर्क करके ली जा सकती है :

अशोक गुप्ता
संस्थापक,किआन फाउंडेशन
मोबाइल नंबर;
9810659911
ईमेल भी किया जा सकता है:
*Email id(foundationkiaan@gmail.com)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button