गणेश जी को प्रिय मोदक तुरंत कैसे बनाएँ

 मोदक (Modak) गणपति बप्पा को बेहद प्रिय है. महाराष्ट्र में गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi) के अवसर पर कई लोग प्रसाद के तौर पर मोदक बनाते हैं. हालांकि आज के समय में स्टीम्ड मोदक, फ्राइड मोदक, चॉकलेट मोदक और ड्राई फ्रूट मोदक देखने को मिलते हैं और सभी का अपना अलग स्वाद है. गणेश उत्सव (Ganesh Utsav) के मौके पर ज्यादातर लोग घर पर ही मोदक बनाना पसंद करते हैं तो इस बार आप भी इस आसान सी रेसिपी (Recipe) के साथ इन्हें घर पर बना सकते हैं और श्रीगणेश को भोग लगा सकते हैं. भगवान गणेश (Lord Ganesha) खुश होकर आपकी सभी मनोकामना पूरी करेंगे. आज हम आपके लिए लाए हैं इंस्टेंट मोदक रेसिपी. सूजी के इस मोदक को आप झटपट बना सकते हैं…
इंस्टेंट मोदक बनाने के लिए आवश्यक सामग्री:
सूजी – ½ कप
दूध – 1 कप
कंडेंस्ड मिल्क – ½ कप
घी – 2 टेबल स्पून
बादाम -10-12 (बारीक कटे)
पिस्ते – 10-12 (बारीक कटे)
इलायची – 6-7 (पाउडर)
चीनी पाउडर – 1 टेबल स्पून
केसर के धागे – 20
इंस्टेंट मोदक रेसिपी:
इंस्टेंट मोदक बनाने के लिए सबसे पहले कड़ाही को गैस पर चढ़ाएं. गैस ऑन करें. कड़ाही में घी डालें. इसमें सूजी डालकर अच्छे से चलाते हुए भून लीजिए. आंच मीडियम ही रखें.
अब 2 चम्मच दूध में केसर के रेशे डालकर थोड़ी देर के लिए छोड़ दीजिये. इसके बाद केसर दूध में अपना रंग छोड़ देगा.
10 मिनट बाद जब सूजी हल्की भुन जाए तब इसमें दूध डालते जाएं और सूजी को चलाते रहें. फिर इसमें केसर वाला दूध भी डाल कर अच्छे से मिक्स कर दीजिए. अब इसमें कंडेंस्ड मिल्क भी मिला लें. इसे बीच बीच में चलाते रहें जब तक कि मिश्रण गाढ़ा ना हो जाए.
इसके बाद गैस बंद कर लें और इस मिश्रण को एक प्लेट में निकालकर ठंडा होने दें. मोदक का भरावन बना लें.
भरावन बनाने के लिए पैन को गैस पर रख कर गरम कर लीजिए. इसमें कटे हुए बादाम, बारीक कटे पिस्ते डाल कर आधे मिनट तक हल्का भूनें. गैस बंद कर दीजिए.
इसमें इलायची पाउडर, चीनी का बूरा, और थोड़ा सा सूजी का मिश्रण भी डाल कर मिला लें. मोदक का भरवान बनकर तैयार है.
मोदक बनाएं:
इंस्टेंट मोदक बनाने के लिए सूजी के मिश्रण को चम्मच की मदद से दूसरी तरफ पलट लें. अब मोदक का सांचा लीजिए और इसमें थोड़ा सा सूजी का मिश्रण डालें और बीच में गुझिया की तरह भरावन भर दें. अब सांचे को तेजी से बंद कर दें. सांचे को खोलें और मोदक को बाहर निकाल लें. ऐसे ही बाकी मोदक भी बनेंगे. इन मोदकों को 5 घंटे बाहर हवा में रहने दें ताकि ये सूख जाए. आप गणपति बप्पा को पूजा में यह प्रसाद अर्पित करें या फिर इन मोदकों को हवा बंद डिब्बे में स्टोर कर फ्रिज में रख दें.

Related Articles