बजाज ऑटो ‘नफरत’ को प्रमोट नहीं करेगा : राजीव बजाज

मैं अपने बच्चों के लिए नफरत पर बने भारत की विरासत नहीं चाहता

टीआरपी घोटाले के बाद चुनिंदा न्यूज चैनलों से अपने विज्ञापन वापस लेने वाले कुछ ब्रांडों में प्रथम बजाज ऑटों के प्रबंध निदेशक राजीव बजाज ने गल्फ न्यूज को दिये एक साक्षात्कार में कहा कि बजाज ऑटो ‘नफरत’ को प्रमोट नहीं करेगा।

उन्होंने कहा कि “वे नहीं चाहते कि उनके बच्चों को ऐसा भारत विरासत में मिले, जो नफरत पर बना हो।”

राजीव ने बताया कि उनके दोस्त क्रिकेटर एमएस धोनी की पाँच वर्षीय बेटी को ऑनलाइन धमकियाँ मिलने पर उन्होंने यह फैसला लिया। वे इस घटना से काफी आहत हुए थे।

राजीव ने कहा, “एमएस धोनी करीबी दोस्त हैं। मैं काफी दुखी हो गया था जब उनकी पांच साल की बेटी, जो मेरे परिवार का हिस्सा है, को धमकी मिली थी। मैं कहा, अब बस हो गया। बजाज ऑटो समाज में नफरत फैलाने का समर्थन नहीं करता है और एक मजबूत ब्रांड वो नींव है, जिसपर आप एक बिजनेस का निर्माण करते हैं।”

राजीव बजाज ने बताया कि धोनी की बेटी को धमकियाँ और अमिताभ बच्चन के लिए मौत की विश ऑनलाइन किये जाने पर वे आहत थे, तब एक दोस्त ने कहा था कि इस नफरत को फंड करना बंद कर दो। मेरे लिए ये एक समझदारी से भरा फैसला था, क्योंकि मेरे बच्चे, मेरे भाई के बच्चे एक ऐसा भारत और समाज नहीं स्वीकारेंगे, जहां इस तरह के नफरत फैलाने वाले लोग हैं। ये एक सरल विकल्प था और मैंने फैसला कर लिया।”

बजाज पहला ब्रांड है जिसने चुनिंदा न्यूज चैनलों से ऐड्स वापस लिये हैं। राजीव बजाज उन चुनिंदा बिजनेसमैनों में से भी एक हैं, जिन्होंने मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले की खुले तौर पर आलोचना की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button