भाकपा ने बेरोजगार दिवस पर बेरोजगारों पर लाठीचार्ज और गिरफ्तारी की निन्दा की

लखनऊ, 17 सितंबर 2020। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के उत्तर प्रदेश राज्य सचिव मण्डल ने राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस पर जबर्दस्त दस्तक देने के लिये उत्तर प्रदेश और देश के युवाओं और छात्रों को क्रांतिकारी अभिवादन पेश करते हुये उनके साथ संपूर्ण एकजुटता व्यक्त की है।

भाकपा ने उत्तर प्रदेश और देश के अन्य कई राज्यों में भाजपा सरकारों की पुलिस द्वारा युवाओं पर जबर्दस्त लाठीचार्ज एवं उनकी गिरफ्तारियों की कड़े शब्दों में निन्दा की है।

भाकपा ने आंदोलन में उतरने के लिए अखिल भारतीय नौजवान सभा एवं आल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन के नेताओं और कार्यकर्ताओं को भी बधाई दी है।

यहाँ जारी एक प्रेस बयान में भाकपा सचिव मण्डल ने कहा कि युवा समुदाय बेरोजगारी से तो पहले से ही त्रस्त था।

अब उन्हें संविदा पर काम पर रखे जाने की योगी सरकार की घोषणा से वह और भी हताश हो गया है।

वह यह भी समझ रहा है कि सरकार ने विशेष सुरक्षा बल SSF का गठन भी जनवादी आंदोलनों को कुचलने को किया है।

वह इसे बर्दाश्त करने को तैयार नहीं।

यहाँ यह उल्लेखनीय है कि जो नौजवान 2 करोड़ युवाओं को रोजगार के वायदे पर भाजपा को सत्ता तक पहुंचाया था आज वह संघ प्रतिष्ठान की धोखाधड़ी को पूरी तरह समझ गया है।

और मोदी-मोदी की रट लगाने वाला वही नौजवान अब उनके जन्मदिवस पर ही आंदोलन कर रहा है।

भाकपा ने कहा कि वह नौजवानों के इस संघर्ष में पूरी तरह साथ है।

भाकपा नौजवानों से अपेक्षा रखती है कि वे इस संघर्ष को सरकार बदलने तक सीमित न रख, व्यवस्था में बदलाव के संघर्ष का रूप देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eight + 4 =

Related Articles

Back to top button