प्रयागराज माघ मेला क्षेत्र में कोविड गाइडलाइन्स का सख्ती से होगा अनुपालन

उन्होंने कहा कि मेला क्षेत्र में स्वच्छता, स्वास्थ्य एवं कोविड के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाये। उन्होंने मेला क्षेत्र में कोविड गाइडलाइंस का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित कराने के निर्देश देते हुए कहा कि बिना मॉस्क के कोई भी मेला क्षेत्र में प्रवेश न करे। बाहर से आने वालों का एण्टीजन अथवा आरटीपीसीआर टेस्ट अवश्य कराया जाये।

14 जनवरी से शुरू होगा माघ मेला

  • प्रयागराज माघ मेला की व्यवस्थाओं एवं तैयारियों की प्रगति समीक्षा बैठक
  • माघ मेला क्षेत्र में कोविड गाइडलाइन्स का सख्ती से अनुपालन हो
  • बिना मास्क कोई भी मेला क्षेत्र में प्रवेश न करने पाये
  • निर्धारित टाइमलाइन के अनुसार पूरे हों समस्त कार्य

लखनऊ, 23 दिसम्बर 2021 : मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में प्रयागराज माघ मेला की व्यवस्थाओं एवं तैयारियों की गहन समीक्षा की गई। अपने संबोधन में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने कहा कि माघ मेला के सभी कार्य निर्धारित टाइमलाइन के अनुसार पूरे किये जायें तथा इसमें किसी भी प्रकार का विलंब न हो। उन्होंने कहा कि मेला क्षेत्र में स्वच्छता एवं कोविड से संबंधित जागरूकता के कार्यक्रम किये जायें।

मेला क्षेत्र में सभी एप्रोच मार्गों पर स्वच्छता, कृषि, महिला सशक्तीकरण, पीएम स्वनिधि आदि से संबंधित पेन्टिंग बनाई जायें तथा इन्हीं से संबंधित डॉक्यूमेन्ट्री, रेडियो जिंगल्स का एलईडी स्क्रीन पर प्रसारण किया जाये। उन्होंने कहा कि मेला क्षेत्र में स्वच्छता, स्वास्थ्य एवं कोविड के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाये। उन्होंने मेला क्षेत्र में कोविड गाइडलाइंस का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित कराने के निर्देश देते हुए कहा कि बिना मॉस्क के कोई भी मेला क्षेत्र में प्रवेश न करे। बाहर से आने वालों का एण्टीजन अथवा आरटीपीसीआर टेस्ट अवश्य कराया जाये।

माघ मेला की तैयारियों का प्रस्तुतीकरण करते हुए मण्डलायुक्त प्रयागराज संजय गोयल ने बताया कि माघ मेला 14 जनवरी, 2022 मकर संक्रान्ति से प्रारंभ होकर 01 मार्च, 2022 महाशिवरात्रि तक चलेगा। मुख्य स्नान पर्व 14 जनवरी मकर संक्रान्ति, 17 जनवरी पौष पूर्णिमा, 01 फरवरी मौनी अमावस्या, 05 फरवरी बसंत पंचमी, 16 फरवरी माघी पूर्णिमा तथा 01 मार्च महाशिवरात्रि को है।

उन्होंने बताया कि माघ मेला क्षेत्र में 07 पान्टून पुलों का निर्माण किया जा रहा है, जो कि निर्धारित टाइमलाइन के अनुसार गतिमान है। चेकर्ड प्लेट मार्गों का निर्माण, साइनेज का कार्य, रिवर ट्रेचिंग का कार्य, अस्थाई जेटी का निर्माण, अस्थाई स्नान घाटों पर पर्याप्त जल की उपलब्धता बनाये रखने का कार्य तथा नालों के चैनलाइजेशन का कार्य निर्धारित समय सारिणी के अनुसार चल रहा है। मुख्य स्वास्थ्य भण्डार, त्रिवेणी एवं गंगा चिकित्सालय, प्राथमिक उपचार केन्द्र संख्या 10, हेल्थ कैम्प संख्या 12 से संबंधित समस्त कार्य 31 दिसम्बर, 2021 से पहले पूरे हो जायेंगे।

माघ मेला क्षेत्र में 05 सेक्टर बनाये गये हैं, जिनमें कुल 1400 एफआरपी जन शौचालय बनाने का कार्य तेजी से चल रहा है तथा इसे 05 जनवरी, 2022 तक पूरा कर लिया जायेगा। कोविड के दृष्टिगत सभी कल्पवासियों को 72 घण्टे के अंदर की आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट व कोविड वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र साथ में लाने को अनिवार्य किया गया है। संपूर्ण मेला क्षेत्र में स्टैटिक थर्मल स्क्रीनिंग सेंटर, स्टैटिक कोविड टेस्टिंग बूथ, कोविड वैक्सीनेशन की व्यवस्था की गई है। कोविड संभावित लक्षणयुक्त लोगों के सर्वे के लिए 60 सर्विलांस टीमें लगाई जा रही हैं।

साथ ही 20 मोबाइल टेस्टिंग टीम के द्वारा कोविड-19 की जांच की भी व्यवस्था की जा रही है। इसके अतिरिक्त यदि किसी संस्था अथवा शिविर में कोई पॉजिटिव व्यक्ति पाया जाता है, तो तत्काल शिविर व उसके आसपास सैनेटाइजेशन कराये जाने की व्यवस्था भी की जा रही है।
पूरे मेला क्षेत्र को स्वच्छ एवं साफ रखने के लिए 2160 सफाई कर्मियों की व्यवस्था की गई है। कूड़े के लिए 2.85 लाख लाइनर बैग, 30 ट्रिपर, 10 कम्पैक्टर, 15 सक्शन मशीन तथा फागिंग एवं लार्वारोधी कीटनाशक छिड़काव की भी व्यवस्था की गई है।

स्वच्छता प्रबंधन के लिए नगर निगम प्रयागराज द्वारा 54 नालों का बायोरेमेडिएशन तथा 06 नालों का फाइटोरिमेडिएशन का कार्य किया जा रहा है। उ0प्र0 प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा सप्ताह में 02 बार सैम्पलिंग की व्यवस्था की जायेगी। सुचारु एवं निर्बाध विद्युत आपूर्ति के लिए 23 विद्युत उपकेन्द्र, 42 किमी ओवरहेड विद्युत लाइन का निर्माण, 335 किमी एलटी थ्री फेज/एलटी वन फेज लाइन का निर्माण, 18500 स्ट्रीट लाइन लगाने का कार्य तथा मेला क्षेत्र में लगने वाले शिविरों में कनेक्शन देने का कार्य समय के अनुसार गतिमान है तथा निर्धारित समय में पूरे हो जायेंगे।

अस्थाई सीवरेज ट्रीटमेन्ट प्लांट का निर्माण 31 दिसंबर, 2021 तक पूरा हो जायेगा। फिल्टर की सफाई का कार्य पूरा हो गया है, नाला टैपिंग संख्या 27 के अनुरक्षण का कार्य समय के अनुसार गतिमान है। जलापूर्ति हेतु 180 किमी पाइपलाइन, 50 किमी ड्रेनेज पाइप लाइन, 11500 जलापूर्ति कनेक्शन तथा 1200 स्टैण्ड पोस्ट के कार्य निर्धारित समयावधि में पूरे कर लिये जायेंगे।

माघ मेला हेतु 641 हेक्टेयर में समतलीकरण का कार्य तेजी से चल रहा है, जो कि 31 दिसम्बर, 2021 तक पूरा हो जायेगा। प्रस्तावित सभी 12 स्नानघाटों का कार्य 05 जनवरी, 2022 तक पूरे हो जायेंगे। पब्लिक एड्रेस सिस्टम पूरे मेला क्षेत्र में 10 जनवरी, 2022 तक क्रियाशील हो जायेगा। पूरे मेला क्षेत्र में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये जा रहे हैं। सुरक्षा के लिए पूरे मेला क्षेत्र में 02 जोन, 05 सेक्टर, 07 सर्किल, 13 थाना, 36 चौकी, 14-14 फायर स्टेशन व फायर वाच टावर, सेन्ट्रल कण्ट्रोल टावर, 03 वाच टावर, डीप वाटर बैरिकेडिंग, रिवर लाइन तथा खोया-पाया केन्द्र बनाये जा रहे हैं तथा सभी सुरक्षा बल चरणबद्ध तरीके से ड्यूटी पर उपस्थित हो जायेंगे। पुलिस बल में नागरिक पुलिस के अलावा महिला पुलिस, यातायात पुलिस, जल पुलिस, घु़ड़सवार पुलिस, पीएसी, एसडीआरएफ, एनडीआरएफ आदि सम्मिलित हैं। मेला क्षेत्र में कुल 08 पार्किंग स्थल भी चिन्हित किये गये हैं।

बैठक में अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव नगर विकास डॉ0 रजनीश दुबे सहित सभी संबंधित विभागों के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी, अन्य संबंधित अधिकारीगण तथा वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से मण्डलायुक्त प्रयागराज, पुलिस महानिरीक्षक प्रयागराज, जिलाधिकारी प्रयागराज, मेलाधिकारी माघ मेला आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

7 + 10 =

Related Articles

Back to top button