हमारे शरीर के प्रतिरक्षा तंत्र को ऐसे छलता है कोरोना वायरस

(मीडिया स्वराज डेस्क)

वैश्विक महामारी कोविड-19 यानि कोरोना वायरस ने पूरे विश्व मे तबाही मचा रखी है। लेकिन क्या कभी आपने ये जानने की कोशिश की है कि आखिर वायरस हमारे शरीर में प्रवेश कैसे करता है। सैन एंटोनियो स्थित टेक्सास हेल्थ साइंस सेन्टर यूनिवर्सिटी से प्रख्यात लेखक योगेश गुप्ता ने इसे स्पष्ट किया है। उनका मानना है कि जिस तरह से कोई बाहरी व्यक्ति किसी बिल्डिंग या घर में सेंधमारी करने से पहले वहां मौजूद अलार्म को डीएक्टिवेट कर देता है। ठीक यही स्थिति कोरोना वायरस की होती है। नेचर कम्युनिकेशन पर आधारित एक स्टडी के मुताबिक कोरोना वायरस एक खास तरह के एंजाइम का निर्माण करता है। जिसे एनएसपी 16 कहते हैं। ये आरएनए की आधारभूत संरचना में आंशिक बदलाव करता है। आरएनए हमारे शरीर की कोशिकाओं में संदेश वाहक यानि संचार का काम करता है। वायरस के प्रभाव में आकर आरएनए का आंशिक बदलाव कोशिकाओं को किसी बाहरी तत्व की मौजूदगी का अहसास ही नहीं होने देता है। जिसकी वजह से वायरस सेल निर्माण का हिस्सा बन जाता है और अपनी संख्या को बढ़ा लेता है। यही कारण है कि हमारे शरीर का प्रतिरक्षा तंत्र वायरस के विरोध में कोई प्रतिक्रिया ही नहीं देता है, जिसके चलते वायरस का कोई लक्षण ही नजर नहीं आता है। वायरस का छलावरण ही उसे मानव शरीर की संरचना में आसानी से घुलने मिलने में सहायता प्रदान करता है।

(इसका अनुवाद सुधांशु सक्सेना द्वारा किया गया है)

(साभार: इंडियन एक्सप्रेस)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles