मुख्यमंत्री ने नवदुर्गा स्वरूपा नौ कुमारी कन्याओं का पूजन किया

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज गोरखपुर में शारदीय नवरात्रि की नवमी की प्रशस्त तिथि में नवदुर्गा स्वरूप नौ कुमारी कन्याओं के पूजन का कार्यक्रम सम्पन्न किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि सनातन धर्म की परम्परा में मातृ शक्ति के प्रति भारत की जो सनातन आस्था रही है, उसका प्रतीक है कुमारी कन्याओं के पूजन का यह कार्यक्रम।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि इस पूजन के तत्काल बाद हम विजयादशमी के कार्यक्रम में प्रवेश कर रहे हैं। उन्होंने सभी प्रदेशवासियों को शारदीय नवरात्रि की हृदय से बधाई दी। उन्होंने कुमारी कन्याओं के पूजन कार्यक्रम में सम्मिलित नवदुर्गा स्वरूप सभी कन्याओं को हृदय से बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह रीतियां मातृ शक्ति के प्रति भारत की सनातन आस्था को प्रदर्शित करती हैं।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि इसके साथ ही विजयादशमी का कार्यक्रम शुरू हो रहा है। उन्होंने सभी प्रदेशवासियों को विजयादशमी की हृदय से बधाई और शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि सत्य, न्याय और धर्म की विजय का प्रतीक विजयदशमी हमेशा हमें सत्य के मार्ग पर चलने, न्याय के मार्ग का अनुसरण करने और धर्म के पथ में चलने की प्रेरणा देता है। यह त्योहार इंगित करता है कि सत्य की सदैव विजय होती है। यह त्योहार हम सबको इस बात की प्रेरणा देता है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आज के दिन ही मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम ने लंका पर विजय प्राप्त करके त्रेता युग में धर्म, सत्य और न्याय के लिए रामराज्य की स्थापना की थी। रामराज्य की उस अवधारणा को स्थापित किया था, जिसमें व्यक्ति-व्यक्ति में कोई भेदभाव न हो, जिसमें जाति, मत, मजहब, क्षेत्र, भाषा के आधार पर किसी के साथ कोई भेदभाव न हो। ‘सर्वे सन्तु निरामया’ सर्वे सन्तु की भावना के साथ सबके कल्याण का मार्ग प्रशस्त हो।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व वाली वर्तमान भारत सरकार ‘सर्वे भवन्तु सुखिना, सर्वे सन्तु निरामया’ की भावना के साथ, सबका साथ, सबका विकास और सबके विश्वास की भावना के साथ कार्य कर रही है। शारदीय नवरात्रि और विजयादशमी का यह पर्व हम सबको इन सब कार्याें के प्रति निरन्तर प्रेरित करता है। उन्होंने कहा कि यह त्योहार जीवन में आगे बढ़ने के लिए हम सबको एक नया उत्साह एक नयी उमंग प्रदान करते हैं।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने सभी प्रदेशवासियों से अपील की कि वे पर्व और त्योहार को उत्साह और उमंग से मनाएं, किन्तु पूरी सावधानी बरतें। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की गाइडलाइन और प्रोटोकाॅल का पूरी तरह से पालन किया जाए। ‘दो गज की दूरी और मास्क है जरूरी’ का अक्षरशः पालन करना होगा। ये कोरोना के खिलाफ देश की लड़ाई है, जो प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में बहुत मजबूती से आगे बढ़ी है। बीमारी काफी हद तक नियंत्रित भी हुई है, और मामले काफी कम हुए हैं। लेकिन यह वह समय है जब हमें बहुत सावधानी बरतनी होगी और इस दृष्टि से हमें कोविड-19 की गाइडलाइन और प्रोटोकॉल का पूरा पालन करना होगा। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि सभी प्रदेशवासी कोरोना के खिलाफ जंग में अपना सहयोग देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button