UP: बीजेपी की 6 प्रदेश यात्राएं सभी 403 विधानसभा क्षेत्रों से होकर गुजरेंगी

भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्यालय पर प्रदेश अध्यक्ष की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में 6 प्रदेश स्तरीय यात्राएं निकालने का निर्णय लिया गया.

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्यालय पर मंगलवार को प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की अध्यक्षता में बैठक हुई। बैठक में 6 प्रदेश स्तरीय यात्राएं निकाले जाने का निर्णय लिया गया। यात्राएं प्रदेश के सभी 403 विधानसभा क्षेत्रों से होते हुए गुजरेंगी।

बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान, उप मुख्यमंत्रीद्वय केशव प्रसाद मौर्य, डाॅ0 दिनेश शर्मा, राष्ट्रीय मंत्री हरीश द्विवेदी, विनोद सोनकर, प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल व कैबिनेट मंत्री ब्रजेश पाठक उपस्थित रहे। विधान परिषद सदस्य विद्या सागर सोनकर को प्रदेश यात्रा प्रमुख बनाया गया है।

बैठक को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदियनाथ ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी प्रदेश स्तर पर 6 यात्राएं निकालने जा रही है। विधानसभा चुनाव के पूर्व निकाली जाने वाली इन यात्राओं के माध्यम से भारतीय जनता पार्टी केंद्र सरकार की 7.5 वर्षों की उपलब्धि और 5 वर्षों की प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को जनता के बीच लेकर जाएगी।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2017 के चुनावों से पहले हमने जब यात्रा निकाली थी, तब पूर्ववर्ती सरकार की खामियों को उजागर करते हुए हम जनता के बीच गए थे। इस बार हम अपनी उपलब्धियां बताने और जनता का आशीर्वाद लेने फिर से उनके बीच जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2017 के चुनावों से पहले हमने जब यात्रा निकाली थी, तब पूर्ववर्ती सरकार की खामियों को उजागर करते हुए हम जनता के बीच गए थे। इस बार हम अपनी उपलब्धियां बताने और जनता का आशीर्वाद लेने फिर से उनके बीच जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि हम सब जानते हैं कि आजादी के बाद से चली आ रही भाई-भतीजावाद, क्षेत्रवाद, भाषावाद, जातिवाद, मत और मजहब के दायरे में कैद होकर चली आ रही राजनीति को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने बदला है। उन्होंने गांव के लिए, गरीब के लिये, किसानों के लिए, नौजवानों के लिए, महिलाओं के लिए गरीब कल्याण के लिए और एक नये भारत को स्थापित करने के लिए जिस अभियान को आगे बढ़ाया है, आज वह प्रत्येक नागरिक की जुबान पर है।

इस बारे में राजनैतिक दल व उनके लोग भले ही बात न करते हों, लेकिन समाज के आम आदमी उनकी गरीब कल्याण की योजनाओं से प्रसन्न हैं। समाज के अंतिम व्यक्ति तक बिना भेदभाव के योजनाओं का लाभ पहुंच रहा है।

इस बारे में राजनैतिक दल व उनके लोग भले ही बात न करते हों, लेकिन समाज के आम आदमी उनकी गरीब कल्याण की योजनाओं से प्रसन्न हैं। समाज के अंतिम व्यक्ति तक बिना भेदभाव के योजनाओं का लाभ पहुंच रहा है। हम उनके इसी विजन को वर्ष 2017 से जनता के हित के लिए गरीब कल्याण की योजनाओं को धरातल पर उतारने में सफल रहे हैं।

वर्ष 2017 से पहले के उत्तर प्रदेश के बारे में सब लोग जानते हैं। पहले दंगे होते थे, माफिया ने तबाही मचाई हुई थी, आम आदमी अपने अधिकारों से जबरिया वंचित था। वर्ष 1947 से वर्ष 2017 तक के बीच प्रदेश में केवल डेढ़ एक्सप्रेसवे बने थे।

आज उत्तर प्रदेश की गिनती एक्सप्रेसवे प्रदेश के रूप में है। यहां छह एक्सप्रेसवे बन रहे हैं। आज चार शहरों से मेट्रो चल रही है, दो नए एम्स बने हैं। प्रदेश नई बढ़त के साथ आगे बढ़ रहा है। डबल इंजन की सरकार का लाभ प्रदेशवासियों को मिल रहा है।

अब सब लोग अयोध्या जाना चाहते हैं, काशी अब विश्व पटल पर नजर आ रही है। यहां सांस्कृतिक विरासत को विकसित किया गया है।

अब सब लोग अयोध्या जाना चाहते हैं, काशी अब विश्व पटल पर नजर आ रही है। यहां सांस्कृतिक विरासत को विकसित किया गया है। इन यात्राओं के माध्यम से हम प्रदेश की 25 करोड़ जनता के बीच भाजपा की केंद्र व राज्य सरकार के जनकल्याणकारी कार्यों और उपलब्धियों को जनता के बीच लेकर जाने वाले हैं, सभी कार्यकर्ता अपने जनपदों में इसकी तैयारी करें। यह यात्रा जातिवाद, तुष्टिकरण और वंशवाद की सीमाओं को तोड़ देगी।

प्रदेश अध्यक्ष श्री स्वतंत्र देव सिंह जी ने कहा कि छह यात्राएं प्रदेश की सभी 403 विधानसभा क्षेत्रों से होते हुए जाएंगी। हम अपने देवतुल्य कार्यकर्ताओं के दम पर और केंद्र की मोदी व राज्य की योगी सरकार के जनकल्याणकारी कार्यों के कारण प्रदेश की जनता के आशीर्वाद से दोबारा 300$ सीटों के साथ सरकार बनाने जा रहे हैं। उन्होंने यात्रा की योजना व अन्य तैयारियों में लगे कार्यकर्ताओं को पूर्ण मनोयोग से जुटने का आग्रह किया।

प्रदेश प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान, संगठन महामंत्री सुनील बंसल व उप मुख्यमंत्रीद्वय केशव प्रसाद मौर्य व डाॅ0 दिनेश शर्मा ने भी यात्रा के निमित्त बुलाई गई बैठक की योजना रचना पर विस्तारपूर्वक चर्चा की।

इसे भी पढ़ें:

योगी के दिल्ली दौरे का उत्तर प्रदेश की राजनीति पर क्या असर होगा ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

16 − thirteen =

Related Articles

Back to top button