किसान अन्नदाता बीजेपी को हराए – अखिलेश यादव

  • हाथ मे अनाज लेकर लिया अखिलेश यादव ने संकल्प।
  • किसानों पर अन्याय और अत्याचार करने वालों को हराएंगे और हटाएंगे।
  • लखीमपुर के किसान नेता तेजिंदर सिंह विर्क ने दिलाया ‘अन्न संकल्प’।
  • “हम सभी लोग संकल्प लेते हैं कि जिन्होंने किसानों पर अन्याय और अत्याचार किया उनको हटाएंगे, हराएंगे यह हमारा अन्न संकल्प है”

किसानों को सिंचाई के लिये मुफ्त बिजली और ब्याज मुक्त लोन

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी चुनाव को ध्यान में रखते हुए किसानों को लेकर बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने लखनऊ में सभी किसानों को सिंचाई के लिये मुफ्त बिजली और ब्याज मुक्त लोन देने का ऐलान किया है। अखिलेश यादव ने सोमवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा है कि किसानों के लिए बीमा और पेंशन का भी इंतजाम किया जाएगा। इस दौरान अखिलेश यादव ने हाथ में अनाज लेकर संकल्प लिया।

इस अवसर पर अखिलेश यादव ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा है और बीजेपी को हटाने की किसानों से अपील की है। उन्होंने कहा- ‘हम सभी संकल्प लेते हैं कि किसानों पर अन्याय करने वालों को हराएंगे और हटाएंगे।

एमएसपी की और गन्ना किसानों को 15 दिन में भुगतान

अखिलेश पत्रकारों को बताया है कि सपा अपने घोषणापत्र में सभी फसलों के लिए एमएसपी की और गन्ना किसानों को 15 दिन में भुगतान सुनिश्चित करेंगे। साथ ही 300 यूनिट फ्री बिजली देने का संकल्प भी पूरा करेंगे। ब्याज मुक्त लोन और बीमा भी किसानों को देंगे। उन्होंने यह भी बताया कि हम इसे कैसे करेंगे, इसकी पूरी जानकारी हमारे घोषणापत्र में दी जायेगी। अखिलेश ने कहा कि भाजपा के घोषणा पत्र जारी करने से पहले ही सपा अपना घोषणा पत्र जारी करेगी।

लखीमपुर के तेजिंदर बिर्क भी मौजूद थे

बता दें कि इस पत्रकार वार्ता में लखीमपुर के तेजिंदर बिर्क भी मौजूद थे। बता दें कि लखीमपुर खीरी मामले में आरोप है कि तेजिंदर पर गाड़ी चढ़ाने की कोशिश हुई थी, जिसमें वो घायल हो गए थे। अखिलेश यादव ने कहा कि इनको कुचल कर मारने की ही साजिश थी। समय पर इलाज और स्थानीय सपा कार्यकर्ताओं की मदद से ठीक हुए। तेजिंदर विर्क तीनों काले कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे थे। अखिलेश यादव ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि वोटों के लिए भाजपा ने काले कानून वापस लिए हैं।

चंद्रशेखर पर तोड़ी चुप्पी

अखिलेश यादव ने पत्रकार वार्ता में बताया कि चंद्रशेखर की पार्टी से गठबंधन नहीं हो सका। अखिलेश यादव ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि जब दो सीटें दी गईं तो उन्होंने स्वीकार कर लिया लेकिन फिर पता नहीं क्या हुआ, उन्होंने इनकार कर दिया, ऐसे में सपा का क्या दोष है?

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की मीडिया से हुई बातचीत को पूरा सुनने के लिये क्लिक करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published.

9 + 6 =

Related Articles

Back to top button