किसान आंदोलन के बहने अखिलेश का बीजेपी पर तंज

नई दिल्ली: समाजवादी पार्टी के राष्ट्री य अध्य क्ष अखिलेश यादव किसान आंदोलन को लेकर भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर लगातार हमले कर रहे हैं. रविवार को किसानों के समर्थन में अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए कहा है कि अमीरों के चरण बनकर, जो बैठे हैं दरबारों में. झूठ फैलाने निकले वो गांव गली चौपालों में.

शहरों में BJP ने चौपाल की शुरुआत की
दरअसल बीजेपी ने शुक्रवार से देश के अलग-अलग शहरों में प्रेस कॉन्फ्रेंस और चौपाल की शुरुआत की है. इसके जरिए बीजेपी किसानों को मोदी सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानून के फायदे समझा रही है.
किसान पिछले दो हफ्तों से केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि कानूनों का पुरजोर विरोध कर रहे हैं. सरकार और किसानों के बीच कई दौर की बातचीत भी हुई है इसके बावजूद बीच का रास्ता नहीं निकला है.

अखिलेश ने किसानो को लेकर सरकार पर साधा निशाना
अखिलेश यादव ने इससे पहले किसानो के मुद्दे को लेकर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सड़कों पर ठिठुरते आंदोलनकारियों की जायज मांगों को लेकर बीजेपी सरकार हृदयहीन रवैया अपनाकर किसानों की घोर उपेक्षा कर रही है.

पूर्व मुख्य्मंत्री ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा कि इस पर जो वैश्विक प्रतिक्रियाएं आ रही हैं, उससे दुनियाभर में भारत की लोकतांत्रिक छवि को गहरी ठेस पहुंची है. बीजेपी सरकार पोषण करने वालों का शोषण करना बंद करे.

पीएम बोले, कृषि सुधारों का किसानों को मिलेगा लाभ
नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों को स्पष्ट संदेश देते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को कहा था कि कृषि क्षेत्र में किये गये सुधारों से उन्हें नये बाजार उपलब्ध होंगे और उनकी आय बढ़ेगी.
उन्होंने कहा था कि नये कृषि कानूनों के जरिये कृषि क्षेत्र में बाधाओं को हटाने का काम किया गया है. इससे क्षेत्र में नई प्रौद्योगिकी आयेगी और निवेश बढ़ेगा.
प्रधानमंत्री ने कहा था कि कृषि क्षेत्र में किये गये सुधारों से इस क्षेत्र में खड़ी दीवारों को हटाने का काम किया गया है. उन्होंने कहा, ”कृषि क्षेत्र में जरूरी ढांचागत सुविधायें हों, खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र हो, बेहतर भंडारण सुविधाओं की बात हो इन सब के बीच दीवारें थीं उन्हें हटाया जा रहा है. बाधाएं हटने से किसानों को अपनी उपज बेचने के लिये नये बाजार मिलेंगे, आधुनिक कोल्ड स्टोरेज उपलब्ध होंगे, निवेश बढ़ेगा और उन्हें इस सब का लाभ मिलेगा.”

दिल्ली की सीमाओं पर कड़े सुरक्षा बंदोबस्त
केंद्र के नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों द्वारा आंदोलन को और तेज करने तथा जयपुर-दिल्ली एवं दिल्ली-आगरा एक्सप्रेसवे को अवरुद्ध करने की घोषणा के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने शहर की सीमाओं पर सुरक्षा बंदोबस्त बढ़ा दिए हैं. गौरतलब है कि कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े हजारों किसान बीते 17 दिन से दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं.

support media swaraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × one =

Related Articles

Back to top button