Air India फिलहाल चल रही घाटे में कर्मचारियों की सैलरी में करेगी 5 फीसद कटौती

कोरोनोवायरस महामारी को देखते हुए एयर इंडिया के कर्मचारियों की सैलरी में 5 फीसद की कटौती हो सकती है। कोरोनवायरस संक्रमण से बढ़ते वित्तीय संकट के बीच एयरलाइन ने ऐसा कदम उठाने का फैसला किया है। कोरोना की वजह से एयर इंडिया ने लगभग सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगा दी है।

एयर इंडिया फिलहाल घाटे में चल रही है और दो साल पहले इसे एक भी खरीदार नहीं मिला था, एयरलाइन मौजूदा समय में निजीकरण के दूसरे प्रयास की प्रक्रिया में है। खर्चों में कटौती के लिए एयरलाइन ने पहले ही कुछ कदम उठाए हैं जिनमें केबिन क्रू के लिए उड़ान भत्ते को कम करने के अलावा कार्यकारी पायलटों को मिलने वाला मनोरंजन भत्ता वापस ले लिया गया है।

सूत्र से मिली जानकारी के मुताबिक, एयर इंडिया अपने कर्मचारियों के लिए 5 फीसद वेतन कटौती पर विचार कर रही है क्योंकि कोरोनोवायरस के प्रकोप से एयरलाइन भारी वित्तीय संकट का सामना कर रही है।

एक अन्य सूत्र के अनुसार, एयरलाइन ने विभिन्न लागत-कटौती उपायों को देखते हुए अपने 100 से अधिक बेरोजगार पायलटों को अनुबंध पर फ्लाइट उड़ानें से मना कर दिया है। हालांकि इस पर एयर इंडिया के प्रवक्ता की ओर से कोइ टिपण्णी नहीं आई है।

मंगलवार को एयरलाइन ने एक सर्कुलर जारी किया जिसमें कहा गया कि कार्यकारी पायलटों का मनोरंजन भत्ता वापस लिया जा रहा है। इसमें यह भी कहा गया कि 1 अप्रैल से कॉन्ट्रैक्ट क्रू के अलावा सभी केबिन क्रू मेंबर को 30 घंटे के लिए 100 अमेरिकी डॉलर दिया जाएगा और इसके बाद प्रत्येक अतिरिक्त घंटे के लिए 4 अमेरिकी डॉलर का संशोधित भत्ता मिलेगा।

अल्ट्रा लॉन्ग फ्लाइट के मामले में इसे बदलकर 30 घंटे में 140 अमेरिकी डॉलर और इसके बाद प्रत्येक अतिरिक्त घंटे की उड़ान के लिए 6 अमेरिकी डॉलर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button