चला गया शोले फ़िल्म का सूरमा भोपाली

 पंकज प्रसून, वरिष्ठ पत्रकार 

चार सौ से अधिक फिल्मों में काम करके दर्शकों के बीच अपनी खास जगह बनाने वाले जगदीप यानी इश्तियाक अहमद जाफरी का 81 वर्ष की उम्र में कैंसर के कारण मृत्यु हो गयी।

फिल्म ‘ शोले’ में सूरमा भोपाली नामक किरदार से उनकी एक अलग ही पहचान बन गयी थी।

वे बौलीवुड अभिनेता जावेद जाफरी और टीवी निर्देशक नावेद जाफरी के पिता थे । उनके कुल मिलाकर छह बच्चे हैं।

उन्होंने राजकपूर की अब दिल्ली दूर नहीं, ख़्वाजा अहमद अब्बास की मुन्ना, गुरुदत्त की आर-पार,विमल राय की दो बीघा जमीन, और एवीएम की हम पंछी एक डाल के में अविस्मरणीय भूमिका निभायी थी।

हम पंछी एक डाल के में उनके अभिनय से प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू इतने प्रसन्न हुए थे कि उन्होंने अपना एक व्यक्तिगत स्टाफ उन्हें गिफ्ट कर दिया था।

उनकी आखिरी फिल्म थी  2017 में आती गली गली चोर है जिसमें अक्षय खन्ना, मुग्धा गोडसे श्रिया सरन मुख्य भूमिकाओं में थे।

उन्होंने सूरमा भोपाली नामक फिल्म का निर्देशन भी किया था, जिसमें वे खुद मुख्य भूमिका में थे। फिल्म भाभी का मशहूर गीत चल उड़ जा रहे पंछी उन्हीं पर फिल्माया गया था ।

29 मार्च 1939  को मध्य प्रदेश के दतिया में जन्मे जगदीप ने बाल कलाकार के रूप में भी आर चोपड़ा की अफसाना से अपना फिल्मी करियर शुरू किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

seventeen + six =

Related Articles

Back to top button