अयोध्या पहुंच मां सरयू की आरती में शामिल हुए केजरीवाल, जानिए क्या है वजह?

अयोध्या में केजरीवाल ने की सरयू की आरती

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में अपनी जीत को लेकर सभी पार्टियां तैयारियों में जुटी हैं. एक ओर बीजेपी शुरू से ही सत्ता में वापसी की तैयारियों में कहीं कमी नहीं रख रही तो वहीं धीरे धीरे अन्य पार्टियों ने भी आसानी से हार न मानने की ठान ली है. इसी क्रम में सपा और कांग्रेस ने जी तोड मेहनत शुरू कर दी है. जहां तक यूपी के लिए नई मानी जाने वाली पार्टियों की बात है तो ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम ने भी काफी पहले से यहां अपनी जगह बनाने के लिए प्रयास शुरू कर दिये थे तो अब अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी भी इसमें पीछे नहीं रहना चाहती.

सुषमाश्री

उत्तर प्रदेश में चुनाव निकट हैं. इसे लेकर सभी राजनीतिक दल पहले से ही इस कोशिश में लगे हैं कि कैसे वे अपनी पार्टी को इस बार यूपी की सत्ता तक पहुंचाने में कामयाब हों. उनके इन प्रयासों ने प्रदेश का मौसम गर्म कर दिया है. चुनावी मौसम की इस गर्मी में AIMIM और आम आदमी पार्टी (AAP) जैसे कुछ दल ऐसे भी हैं, जो यहां अपने लिए राजनीतिक जमीन तलाशने की कोशिश में जुटे हैं.

बता दें कि सितंबर माह में आप पार्टी ने यूपी चुनावों के लिए अपने 100 प्रत्याशियों को चुनावी मैदान में उतारने की घोषणा कर दी थी. इसलिए माना जा रहा है कि त्योहारों और पूजा-पाठ के बहाने उत्तर प्रदेश की जमीन पर केजरीवाल पहुंचकर यहां की जनता के बीच अपनी उपस्थिति दर्ज कराने का प्रयास कर रहे हैं.

अयोध्या में केजरीवाल : इसी क्रम में सोमवार, 25 अक्टूबर 2021 की शाम दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल भगवान श्रीराम की नगरी अयोध्या पहुंचे. वे यहां मां सरयू के तट पर सायंकाल होने वाली आरती में शामिल होने के लिए पहुंचे थे. शाम 6 बजे आरती में शामिल होने के बाद उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर वीडियो पोस्ट कर लिखा, भगवान श्री राम जी की नगरी अयोध्या में मां सरयू आरती में शामिल होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ.

आरती के बाद मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा, अयोध्या आने का अवसर मिला है. अयोध्या में सभी देवी देवताओं और भगवान राम, मां सरयू से आशीर्वाद मांगता हूं कि हमारे देश को इस महामारी से मुक्ति मिले. हमारे देश के लोग अच्छे हैं, हमारे देश को बहुत आगे पहुंच जाना चाहिए था अभी तक.

उन्होंने आगे कहा, हमारे देश में आज गरीबी और अशिक्षा है. सभी देवता और प्रभु राम से प्रार्थना करता हूं कि मेरा भारतवर्ष जल्द ही दुनिया का नंबर वन देश बने. मेरा दिल कहता है कि 130 करोड़ भारतवासी मिल कर इसे संभव कर सकते हैं.

आम आदमी पार्टी के मुखिया केजरीवाल ने आगे कहा, दिल्ली की सत्ता चलाने का पांच साल का मेरा अनुभव यह कहता है कि अगर हम सब 130 करोड़ लोग एक परिवार, एक टीम की तरह से काम करें, सब के बीच के भेदभाव को भूलकर काम करें, तो इस देश को दुनिया की सबसे बड़ी शक्ति बनाने से कोई भी नहीं रोक सकता.

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में हमने कई ऐसे काम करके दिखाए भी हैं. दिल्ली में स्कूल, सड़कें, अस्पताल अच्छी हो गईं, पानी, बिजली, सब अच्छा हो गया है.

बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज सवेरे नवाबों के शहर लखनऊ पहुंचे थे. लखनऊ एयरपोर्ट पर उतरने पर समाचार एजेंसी एएनआई ने ट्वीटर पर उनकी तस्वीर साझा कर उनके लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचने की खबर सभी से साझा की थी.

बहरहाल, अब देखना यह है कि केजरीवाल की इस यात्रा का, या सरयू के तट पर आरती में शामिल होने का यह राजनीतिक दांव उन्हें यूपी चुनावों में कितनी सीटें दिला सकता है. या कहें कि केजरीवाल की इस कोशिश से प्रदेश में किस पार्टी को कितना फायदा और किसे कितना नुकसान होता है!

अयोध्या के चौतरफ़ा विकास के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कोशिश
support media swaraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 + 19 =

Related Articles

Back to top button