पंजाब में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा पर हमला

जालंधर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर घटना, नाराज भाजपाई सड़क पर बैठे

पंजाब भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा के काफिले पर सोमवार रात दो गाड़ियों में आए अज्ञात लोगों ने लाठी-डंडों, पत्थर और बेसबाल से हमला कर दिया।

गाड़ियों पर पथराव किया गया। शर्मा के साथ मारपीट की गई। इस हमले में श्री शर्मा को चोटें आयी हैं।

अश्वनी शर्मा के सुरक्षा गार्डों ने उन्हें किसी तरह से बचाकर निकाला और दसूहा लेकर आए।

हमला पंजाब के होशियारपुर में राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित चौलंग टोल प्लाजा पर सोमवार रात करीब आठ बजे हुआ।

इसके बाद शर्मा अपने कार्यकर्ताओं के साथ दसूहा थाने पहुंचे और पुलिस को शिकायत दी।

वहीं पार्टी प्रधान पर हमले की बात सुनते ही इकट्ठे हुए भाजपाइयों ने सड़क पर जाम लगाकर नारेबाजी शुरू कर दी।

जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे डीएसपी दसूहा मनीष शर्मा ने भाजपाइयों को समझाकर रास्ता खुलवाया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

जानकारी के अनुसार पंजाब भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा जालंधर से पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर पठानकोट वापस जा रहे थे।

राष्ट्रीय राजमार्ग पर गांव चौलांग के पास टोल प्लाजा पर किसान धरना लगाकर बैठे थे।

वहां से गुजरते वक्त कुछ लोगों ने उनके काफिले को घेरने की कोशिश की लेकिन काफिला वहां से निकल गया।

इसके बाद दो गाड़ियों में लोगों ने उनका पीछा किया और शर्मा की गाड़ी को घेरकर हमला बोल दिया। इस दौरान शर्मा के साथ भी मारपीट की गई, जिससे उन्हें चोटें आईं।

अश्वनी शर्मा ने थाना दसूहा में बताया कि उनको लगता है कि यह असामाजिक तत्वों द्वारा किया गया हमला है।

यह पंजाब की अमन शांति को भंग करने के लिए किया गया हमला है, क्योंकि किसान कभी ऐसा काम नहीं कर सकते।

वहीं भाजपा कार्यकर्ताओं को जैसे ही प्रदेश भाजपा अध्यक्ष पर हमले की जानकारी मिली तो पूरे जिले के कार्यकर्ता दसूहा थाने पहुंचे।

रोष जताते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं ने अपने वाहन बीच सड़क लगा कर राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात अवरुद्ध कर दिया।

इस दौरान जिला भाजपा अध्यक्ष संजीव, जंगी लाल महाजन, पूर्व विधायक सुखजीत कौर साही, पूर्व मंत्री अरुणेश शाकर और मंडल भाजपा अध्यक्ष कुंदन लाल शुभ सरोज मौजूद रहे।

पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता को हमलावरों की पहचान और उनकी गिरफ्तारी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि पंजाब सरकार ऐसे लोगों का कतई समर्थन नहीं करती।

भाजपा के प्रदेश मीडिया सहप्रभारी सुनील सिंगला ने कहा कि कानून-व्यवस्था पंजाब में पूरी तरह से ध्वस्त हो चुकी है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को तत्काल प्रभाव से मामले की जांच कराकर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुघ ने कहा कि पंजाब में किसान आंदोलन की आड़ में यूथ कांग्रेस के गुंडे पुलिस के सहयोग से भाजपा को निशाना बना रहे हैं। ऐसे घिनौने राजनीतिक हमलों से भाजपा न डरेगी, न झुकेगी और न अपने संकल्प से पीछे हटेगी।

support media swaraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen − 7 =

Related Articles

Back to top button