ए के शर्मा ने यूपी की राजनीति में जलवा दिखाना शुरू किया

आई ए एस अफ़सर से नेता बने अरविंद कुमार शर्मा ए के शर्मा ने नयी ट्रेन चलवाकर यूपी की राजनीति में अपना जलवा दिखाना शुरू कर दिया है. रेल मंत्रालय ने उनके कहने पर पूर्वांचल के मऊ के लिए एक नयी ट्रेन चला दी है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने स्वयं अपने ट्विटर हैंडल से यह जानकारी दी. ट्वीट में इस बात का विशेष उल्लेख है कि टर्न का संचालन उत्तर प्रदेश विधान परिषद ए कि शर्मा के विशेष आग्रह पर रेलवे ने स्पेशल ट्रेन का संचालन शुरू किया है.

अरविंद कुमार शर्मा ए के शर्मा ने स्वयं भी ट्वीट करके लोगों को नयी ट्रेन चलने की सूचना दी. श्री शर्मा ने कहा कि, “उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस पर यह हमारे लिए बड़ी मदद है. उन्होंने प्रधानमंत्री और रेल मंत्री को धन्यवाद दिया.

श्री शर्मा ने इस तरह ए के शर्मा ने ट्रेन चलवाकर यूपी की राजनीति में अपना जलवा दिखा दिया और फिर से साबित किया कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भरोसेमंद अफ़सर रहे हैं और उन्हीं के कारण राजनीति में आए हैं.

कहा जाता है कि प्रधानमंत्री मोदी के पूर्वांचल के बनारस से लोक सभा चुनाव लड़ने में भी ए के शर्मा का हाथ रहा है.

अरविंद कुमार शर्मा ए के शर्मा के नौकरी छोड़कर राजनीति में शामिल होते ही उत्तर प्रदेश में भूचाल सा आ गया. अटकलें लगीं कि शर्मा को योगी सरकार में नम्बर दो बनाकर बड़ी ज़िम्मेदारी दी जाएगी. पूर्वांचल के लोग और भारतीय जनता पार्टी के नेता उन्हें बधाई देने पहुँचने लगे.

लेकिन जब अरविंद कुमार शर्मा लखनऊ में भाजपा में शामिल हुए तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर में थे. मुख्यमंत्री से उनकी मुलाक़ात में भी काफ़ी समय लग गया.

इसके बाद ही भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा, संघ के प्रभारी महामंत्री बी एल संतोष एवं उत्तर प्रदेश से सभी राष्ट्रीय पदाधिकारी दो दिन के लिए लखनऊ आए. इन लोगों ने पार्टी विधायकों, मंत्रियों और कार्यकर्ताओं से योगी सरकार के काम काज और कमियों के बारे में तमाम जानकारी एकत्र की. समझा जाता है कि अब शीघ्र ही उत्तर प्रदेश सरकार में कोई बड़ा फेरबदल होगा.

इस फेरबदल में कुछ नए मंत्री बैन सकते हैं और कुछ हटाए भी जा सकते हैं. पर अभी यह अभी साफ़ नहीं है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपनी सत्ता और अधिकार किस हैड तक शेयर करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

1 × one =

Related Articles

Back to top button