उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा-मध्य प्रदेश में अब कमल नाथ नहीं कमल ही खिलेगा

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि योगी सरकार ने इन तीन वर्षों में प्रदेश का चेहरा बदल दिया है। जो प्रदेश बेरोजगारी अपराध और महिला उत्पीडऩ के लिए जाना जाता था, वहां आज अपराध बेहद कम हो गए हैं। अपराधी सलाखों के पीछे हैं और भ्रष्टाचार को काफी हद तक नियंत्रित कर लिया गया है। रोजगार के लिए प्रदेश में डिफेंस एक्सपो और डिफेंस कॉरिडोर बनाने जैसे काम किए जा रहे हैं, जिससे निवेशक बड़ी संख्या में यहां आकर्षित हो रहे हैं। इससे बड़े पैमाने पर रोजगार पैदा होगा। वह गुरुवार को मर्चेंट चेंबर हॉल में प्रेस वार्ता करके प्रदेश सरकार की तीन साल की उपलब्धियां गिना रहे थे।

विपक्षी दल अपनी सरकार से तीन साल के काम की करें तुलना

मध्यप्रदेश में मचे घमासान पर उन्होंने कहा कि वहां पर कमल नाथ नहीं कमल ही खिलेगा। कहा कि जो विपक्षी दल आरोप लगा रहे हैं वह अपनी पांच साल की सरकार से भाजपा के तीन साल के कार्यकाल की तुलना करें। हमने उनसे दुगुने रोजगार दिए हैं और कई गुना अधिक विकास किया है। बोले, यूपी बोर्ड परीक्षा के टॉपर के घर पर जिस तरह से सड़क बनवाई जा रही थी, अब सीबीएसई और आइसीएसई के टॉपर्स के घरों तक भी सड़क पहुंचाई जाएगी। खिलाडिय़ों के घरों तक भी प्रदेश सरकार मेजर ध्यानचंद के नाम से सड़क बनवाएगी।

कोरोना वायरस से घबराने नहीं सावधान रहने की जरूरत

कोरोना वायरस को लेकर डिप्टी सीएम ने कहा कहा कि सरकार ने सभी तरह के सार्वजनिक कार्यक्रम, स्कूल कॉलेजों को बंद कर दिया है। लोगों को इससे घबराने की नहीं सावधान रहने की आवश्यकता है। कोरोना की वजह से जिन गरीबों को रोजगार नहीं मिल पा रहा है वह भूखे ना सोएं, इसके लिए प्रदेश सरकार ने एक कमेटी का गठन कर दिया है, जो दो-तीन दिन के भीतर अपनी रिपोर्ट दे देगी। उन्होंने प्रदेश से लेकर कानपुर तक हुए विकास कार्यों का विवरण आंकड़ों में देने के साथ ही विधानसभा वार हुए विकास कार्यों पर आधारित पुस्तकों का विमोचन भी किया। प्रदेश महामंत्री सलिल विश्नोई, महापौर प्रमिला पांडे, विधायक सुरेंद्र मैथानी, अभिजीत सिंह सांगा, महेश द्विवेदी, जिलाध्यक्ष उत्तर सुनील बजाज व दक्षिण डॉ. वीना आर्य मौजूद रहीं।

आइसोलेशन वार्ड में भर्ती संदिग्ध लोगों से मिले

उपमुख्यमंत्री प्रेस कांफ्रेंस के बाद उर्सला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में निरीक्षण करने पहुंचे। यहां भर्ती दो संदिग्ध लोगों से मुलाकात की और हालचाल जाना। उर्सला अस्पताल के डॉक्टरों को उन्होंने हर समय चौकसी बरतने के निर्देश दिए। किसी भी संदिग्ध व्यक्ति के आने पर अथवा किसी व्यक्ति के कोरोना पीडि़त होने की शिकायत पर हीलाहवाली न बरतने के निर्देश दिए । उन्होंने अस्पताल को सैनिटाइज करने के भी निर्देश दिए। उपमुख्यमंत्री यहां करीब दस मिनट रुके।

support media swaraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × five =

Related Articles

Back to top button