इन फूड्स के सेवन से बचकर रहने पर ही सेहत रहेगी दुरुस्त, जाने…

सेहत का राज हमारे खान पान से जुड़ा हुआ है ऑफिस हो या घर हमें अपने खाने पीने का विशेष ध्यान रखना चाहिए। अक्सर देखा गया है की काम करने के दौरान हम खाते रहने से कुछ भी अनाप शनाप खाते जाते है इससे पेट तो नहीं भरता है और साथ ही पेट ख़राब होने का कारण बन जाता है इसके अलावा वजन भी बढ़ने लगता है इसलिए जरुरी है अपने खाने पर ध्यान दे ख़ास कर घर हो या ओफ्फिस इन भोज्य पदार्थो को खाने से बचे जिससे सेहत पर बुरा असर पड़ता है , तो आइये जानते है इनके बारे में  ……

फ्रेश जूसबहुत से ऑफिस के नीचे जूस की दुकान होती हैं और महिलाएं जूस का सेवन करना एक हेल्दी ऑप्शन मानती हैं। लेकिन आपको ऑफिस में इन जूस की दुकान से ताजा जूस नहीं पीना चाहिए। इससे आपको एक नहीं, कई नुकसान होते हैं। सबसे पहले तो फलों को यूं ही खाना चाहिए। अगर आप इनका रस पीती हैं तो आपको फलों में मौजूद फाइबर नहीं मिल पाती, वास्तव में आप बस शुगर का ही सेवन कर रही हैं।

तला हुआ भोजनतला हुआ भोजन खाने से आपका कैलोरी इनटेक तो बढ़ता है ही, साथ ही इन्हें ऑफिस में खाने का एक सबसे बड़ा नुकसान यह है कि जब आप तले हुए व हैवी फूड को खाती हैं तो इससे आपको नींद व सुस्ती आती है। ऐसे में ऑफिस में काम करने का मन ही नहीं करता और इससे आपकी वर्क क्वालिटी पर भी विपरीत असर पड़ता है।

जंक फूडजंक फूड जैसे बिस्कुट, चिप्स, बर्गर आदि का सेवन सिर्फ ऑफिस में ही नहीं, बल्कि घर पर भी करने से बचना चाहिए। जंक फूड खाने से आपके शरीर को किसी भी तरह के पोषक तत्व नहीं मिलते और अतिरिक्त कैलोरी इनटेक करने से आपका वजन भी बढ़ने लगता है। इतना ही नहीं, बिस्कुट आदि में सिंपल कार्बोहाइड्रेट होते हैं, जिनसे पेट नहीं भरता और आपको कुछ ही देर में फिर से भूख लगने लगती है। ऐसे में जंक फूड का सेवन मोटापा बढ़ाता है, साथ ही मोटापे के कारण कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं भी आपको अपनी जद में ले लेती हैं।

कैफीन युक्त पेय पदार्थऑफिस में हम सभी बार-बार चाय-कॉफी का सेवन करती हैं। हमें लगता है कि इससे हम थकान को दूर करके खुद को रिचार्ज कर रही हैं। लेकिन महिलाओं को ऑफिस में कैफीन युक्त पेय पदार्थ जैसे चाय, कॉफी या फिर कोल्ड ड्रिंक आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। खासतौर से, महिलाओं को कॉफी से तो ज्यादा से ज्यादा दूरी बनाकर रखनी चाहिए। दरअसल, कैफीन युक्त पेय पदार्थ ना सिर्फ उनकी बॉडी को डिहाइड्रेट करते हैं, बल्कि इससे उन्हें अतिरिक्त नुकसान भी होता है।

इन पदार्थो के सेवन से डिजेशन सिस्टम पर भी बुरा असर पड़ता है अच्छी सेहत के लिए इन से दुरी बना लेना ही अच्छा है ख़ास टूर पर यदि आप डायबिटीज या हाई बीपी के मरीज है तो कारण यही नहीं चाहिए

support media swaraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − 5 =

Related Articles

Back to top button