विरोधियों पर जमकर बरसे उद्धव ठाकरे, कही ये बात

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे इन दिनों पूरे जोश में हैं। अब हाल ही में उन्होंने भाजपा को निशाने पर लिया है। जी दरअसल उद्धव ठाकरे सरकार की पहली सालगिरह की पूर्वसंध्या के मौके पर शिवसेना के मुखपत्र सामना को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कई अहम मुद्दों पर राय दी। जो आज हम आपको बताने जा रहे हैं।

सामना के एग्जीक्युटिव एडिटर संजय राउत से बातचीत में उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत की मौत से लेकर लव जिहाद जैसे मुद्दों पर बात की। इस दौरान उन्होंने केंद्रीय एजेंसियों का पूरे देश में दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए कहा कि, ‘मैं शांत हूं इसका मतलब यह नहीं कि मैं नपुंसक हूं। परिवार पर हमले करना यह हमारी संस्कृति नहीं है। अगर वे हमारे परिवारों और बच्चों पर हमले कर रहे हैं तो उन्हें याद रखना चाहिए कि उनके भी परिवार और बच्चे हैं।’ इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा, ‘वे कोई धुले हुए चावल नहीं हैं, अगर हमने तय कर लिया तो हम उनकी ‘खिचड़ी’ भी बनाना जानते हैं। ज्यादा हावी होंगे तो हाथ धोकर पीछे पड़ जाऊंगा।’

वहीँ आगे लव जिहाद के मुद्दे पर बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘आप (केंद्र सरकार) कहेंगे तो हम इस पर कानून बना देंगे लेकिन पहले ये बताया जाए कि कश्मीर से कन्याकुमारी तक गोवध के खिलाफ कानून कब आएगा। केंद्र सरकार ने अब कश्मीर से पाबंदियां हटा ली हैं तो क्या आप गोवा या पूर्वोत्तर राज्यों में ऐसा कानून लाएंगे, जहां आपकी सरकार है। भाजपा उन्हीं राज्यों में ऐसे मुद्दों को उठाती है, जहां चुनाव होने होते हैं और अगर लोग वोट देते हैं तो वे कानून बना देते हैं। हिंदुत्व को अपनी राजनीति के लिए इस्तेमाल न करें। हम कभी ऐसे सहूलियत के हिंदुत्व में शामिल नहीं रहे।’

इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि, ”राजनीति में ही लव जिहाद का कॉन्सेप्ट लागू क्यों नहीं होना चाहिए? वे हिंदू लड़की से मुस्लिम लड़के की शादी का विरोध करते हैं। तो आपने महबूबा मुफ्ती के साथ गठबंधन क्यों किया? नीतीश कुमार?, चंद्रबाबू नायडू? विभिन्न राजनीतिक विचारधारा वाली पार्टियों के साथ आपने गठबंधन किया है क्या यह लव जिहाद नहीं है?” इसके अलावा भी उन्होंने अन्य कई मुद्दों पर बात की।

support media swaraj

Related Articles

Back to top button