अमेरिकी चुनाव में मिली हार के बाद ट्रंप ने रक्षा मंत्री मार्क एस्पर को किया बर्खास्त

अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में मिली बार के बाद डोनाल्ड ट्रंप ने एक चौंका देने वाले फैसले में रक्षा मंत्री मार्क एस्पर को बर्खास्त कर दिया है। उन्होंने तत्काल प्रभाव से राष्ट्रीय आतंकवादरोधी केंद्र के निदेशक क्रिस्टोफर मिलर को कार्यवाहक रक्षा मंत्री नियुक्त भी कर दिया है। हालांकि, उम्मीद कम है कि सीनेट नए मंत्री की नियुक्ति को मंजूरी देगी। वहीं, रक्षा मंत्रालय के मुख्यालय पेंटागन की तरफ से नए घटनाक्रम पर अभी कोई बयान नहीं आया है। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने अपने इस फैसले की जानकारी ट्वीट के जरिये दी।

 

ट्वीट कर किया ‘मार्क एस्पर को बर्खास्त
उन्होंने ट्वीट किया, ‘मार्क एस्पर को बर्खास्त कर दिया गया है।’ वैसे बताया जाता है कि एस्पर को पहले से ही यह पता था कि चुनाव के बाद उन्हें पद से हटाया जा सकता है, खासकर तब जब ट्रंप चुनाव जीत जाते। अमेरिका में आमतौर पर दोबारा निर्वाचित होने के बाद राष्ट्रपति अपने मंत्रियों को हटाते हैं। पराजित होने के बाद कोई राष्ट्रपति अगली सरकार के गठन तक राष्ट्रीय सुरक्षा के नाम पर रक्षा मंत्री को नहीं हटाता है। ट्रंप ने उप रक्षा मंत्री को भी दरकिनार कर दिया है।

एक अन्य ट्वीट में ट्रंप ने कहा है कि मिलर बहुत बढ़िया काम करेंगे। दरअसल, ट्रंप और एस्पर के संबंध पिछले दिनों नस्लीय भेदभाव को भड़के असंतोष के दौरान ही खराब हो गए थे। एस्पर घरेलू मामलों को संभालने के लिए सैनिकों को तैनात करने के पक्ष में नहीं थे। जबकि ट्रंप ऐसा चाहते थे और वाशिंगटन डीसी में सेना को लगा दिया गया था।

चुनाव में धांधली के खिलाफ ट्रंप करेंगे रैली
उधर, सत्ता हस्तांतरण के बढ़ रहे दबाव के बीच राष्ट्रपति ट्रंप चुनाव में धांधली के खिलाफ कई रैलियां करने की योजना बना रहे हैं। ट्रंप कैंपेन के प्रवक्ता ने इसकी पुष्टि की है। हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि ट्रंप रैलियां कब से शुरू करेंगे। प्रांतों में दोबारा मतगणना का दबाव डालने के लिए भी ट्रंप ने टीमों की घोषणा की है। हालांकि प्रांतीय चुनाव अधिकारियों ने कहा है कि किसी भी प्रकार की धांधली नहीं हुई है। अब तक ट्रंप कैंपेन ने धांधली से जुड़ा कोई सुबूत पेश नहीं किया है।

support media swaraj

Related Articles

Back to top button