SC बार एसोसिएशन ने किसान आंदोलन का किया समर्थन, निःशुल्क मुकदमा लड़ने के लिए है तैयार

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानून के विरोध में किसानों का आंदोलन आज दसवें दिन भी जारी है। किसानों ने केंद्र सरकार को चेतावनी दी है कि जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं की जाएंगी, वे आन्दोलन जारी रखेंगे। पांचवें दौर की बैठक से पहले किसानों ने बड़ा ऐलान किया कि आज शनिवार को किसान संगठन पीएम मोदी का पुतला फूंकेंगे। इसके साथ ही किसानों ने 8 दिसंबर को भारत बंद का ऐलान किया है।

इस बीच सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष ने कहा कि वे किसानों के लिए निःशुल्क मुकदमा लड़ने को तैयार हैं। किसानों की संघर्ष समिति के सदस्यों की बैठक के बाद सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन (SCBA) अध्यक्ष और एडवोकेट दुष्यंत दवे ने शुक्रवार को कहा कि, ‘अगर किसान किसी भी मामले को उच्च न्यायालय और शीर्ष अदालत में लड़ना चाहते हैं तो मैं उनके लिए मुफ्त में मुकदमा लड़ने को तैयार हूं। मैं किसानों के साथ खड़ा हूं।’

वहीं सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष के इस प्रस्ताव पर वकील एचएस फूलका का कहना है कि हम दुष्यंत दवे के शुक्रगुजार हैं कि उन्होंने किसानों की कानूनी रूप से सहायता करने की पेशकश की। सरकार को सोचना चाहिए कि जब देश के वरिष्ठ वकील ही कह रहे हैं कि ये कानून किसानों के हित में नहीं हैं तो सरकार को इस बारे में अवश्य विचार करना चाहिए।

support media swaraj

Related Articles

Back to top button