नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने BJP नेताओं के बयान को मुद्दा बना सीएम नीतीश पर साधा निशाना

नेता प्रतिपक्ष और राजद नेता तेजस्वी यादव लॉ एंड ऑर्डर समेत विभिन्न मुद्दों पर मुख्यमंत्री नीतीश पर लगातार हमलावर रहे हैं। आज बुधवार को एक बार फिर से तेजस्वी ने ताबड़तोड़ ट्वीट करते हुए बीजेपी नेताओं के बयानों का हवाला देते हुए बिहार में कानून व्यवस्था को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश पर हमला बोला है।

तेजस्वी ने लिखा है कि- डकैती, झूठ, लूट, छल, प्रपंच और फ़रेब से बनी बिहार सरकार को आज एक महीना हो गया है। सरकार में दो उपमुख्यमंत्री और सबसे अधिक मंत्री, विधायक वाली BJP के MP, MLA और मंत्री ही प्रतिदिन अपनी लूटेरी सरकार, CM और पार्टी पर सवाल उठाते हैं।

इससे पहले उन्होंने लिखा कि – मुख्यमंत्री जी, विपक्ष के तर्क और तथ्यपूर्ण सवालों का कभी भी उत्तर नहीं देते क्योंकि उनके पास जवाब ही नहीं होता। अगर विपक्ष का जवाब देने में किसी प्रकार की बची-खुची प्रतिष्ठा का क्षरण होता है तो अपने सबसे बड़े सहयोगी और उनके मंत्रियों की शंकाओं का ही लोकहित में जवाब दे दिजीए।

मुख्यमंत्री जी, विपक्ष के तर्क व तथ्यपूर्ण सवालों का कभी भी उत्तर नहीं देते क्योंकि उनके पास जवाब ही नहीं होता। अगर विपक्ष का जवाब देने में किसी प्रकार की बची-खुची प्रतिष्ठा का क्षरण होता है तो अपने सबसे बड़े सहयोगी और उनके मंत्रियों की शंकाओं का ही लोकहित में जवाब दे दिजीए।

वहीं एक ट्वीट में तेजस्वी ने लिखा कि- चोरी की इस नई नवेली सरकार को एक महीना समय दे रहे हैं ताकि वो प्रदेश के करोड़ों बेरोजगारों, छात्रों और किसानों की माँगों को पूर्ण करने, प्रशासन के कण-कण में व्याप्त भ्रष्टाचार और प्रदेश के कोने-कोने में स्थापित बेतहाशा अपराध को क़ाबू करने की दिशा में ठोस कदम उठा सके।

डकैती, झूठ, लूट, छल, प्रपंच और फ़रेब से बनी बिहार सरकार को आज एक महीना हो गया है। सरकार में दो उपमुख्यमंत्री और सबसे अधिक मंत्री, विधायक वाली BJP के MP, MLA और मंत्री ही प्रतिदिन अपनी लूटेरी सरकार, CM और पार्टी पर सवाल उठाते है।

आपको बता दें कि बिहार चुनाव 2020 में बहुत कम मार्जिन से जीत के बाद नीतीश की अगुवाई में एनडीए सरकार का गठन हुआ है। नई सरकार के गठन के बाद से ही संयोगवश प्रदेश में अपराधिक वारदातों में बेतहाशा वृद्धि हुई है। गृह विभाग का प्रभार खुद मुख्यमंत्री नीतीश के पास है। बढ़ती अपराधिक वारदात के बाद सीएम नीतीश ने पखवाड़े भर के अंदर तीन बार पुलिस के वरीय अधिकारियों के साथ मीटिंग कर बिहार में लॉ एंड ऑडर पर सख्ती बरतने के निर्देश देते हुए लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

support media swaraj

Related Articles

Back to top button