कंगना को केंद्र की ओर से मिली Y श्रेणी सुरक्षा

शिसेना की धमकी के बावजूद 9 सितंबर को आएंगी मुंबई

सुशांत सिंह राजपूत केस में मुखर अभिनेत्री कंगना रनौत और शिवसेना नेताओं के बीच जुबानी जंग खत्म नहीं हो रही है।

संजय राउत और कंगना में आरपार के बीच अभिनेत्री नौ सितंबर को मुंबई पहुंच रही हैं।

शिवसेना कार्यकर्ताओं द्वारा हुए कुछ प्रदर्शनों के बीच अब कंगना को केंद्र सरकार की ओर से Y कैटेगरी की सुरक्षा मुहैया कराई गई है।

यानी अब कंगना जब मुंबई एयरपोर्ट पर उतरेंगी तो उनके साथ सुरक्षाकर्मी मौजूद होंगे।

क्या होती है Y कैटेगरी सुरक्षा

गृह मंत्रालय द्वारा दी जाने वाली वाई स्तरीय सुरक्षा में वो वीआईपी आते हैं जिनको इसके तहत 11 सुरक्षाकर्मी मिले होते हैं।

इनमें 1 या 2 कमांडो और 2 पीएसओ भी शामिल होते हैं।

बीते साल ही केंद्र सरकार ने करीब 11 से अधिक लोगों को Y कैटेगरी की सुरक्षा दी थी।

इसमें यूपी के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा शामिल थे।

यानी अब कंगना के साथ 1 या 2 कमांडो, 2 PSO और अन्य पुलिसकर्मी होंगे. कुल जवानों की संख्या 11 होगी।

कौन-कौन सी सुरक्षाएं दी जाती हैं?

आपको बता दें कि देश में अलग-अलग स्तर पर केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा सुरक्षाएं मुहैया कराई जाती हैं।

इनमें नेताओं से लेकर अन्य वीआईपी, जिनपर किसी भी तरह का कोई खतरा रहता है उन्हें थ्रेट के हिसाब से सुरक्षा दी जाती है।

इनमें X, Y, Z, Z+ लेवल की सुरक्षाएं होती हैं।

X कैटेगरी में दो पुलिसकर्मी, Y कैटेगरी में 11 जवान, Z में कुल 22 जिसमें NSG कमांडो भी होते हैं।

जबकि Z+ सुरक्षा में NSG कमांडो समेत कुल 36 जवान सुरक्षा में लगे होते हैं।

इससे ऊपर सिर्फ एसपीजी लेवल की सुरक्षा होती है, जो प्रधानमंत्री के पास होती है।

बीते दिनों से ही कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार के बीच विवाद चल रहा है।

कंगना ने सुशांत मामले में लापरवाही और ड्रग्स कनेक्शन को लेकर मुंबई पुलिस पर आरोप लगाये।

इसके बाद महाराष्ट्र सरकार की ओर से निशाना साधा गया।

फिर शिवसेना नेता संजय राउत और कंगना के बीच जुबानी जंग शुरू हो गई।

इसके बाद शिवसेना कार्यकर्ताओं ने कंगना के पुतले फूंके थे और मुंबई ना लौटने को कहा था।

ऐसे में अब कंगना को सुरक्षा दी गई है।

Related Articles