हरियाणा से जाना है तो रूट की कर लें जानकारी, सरकार ने जारी की ट्रैवल एडवाइजरी

अगर आपको अगले तीन दिन हरियाणा होकर यात्रा करनी है या हरियाणा से बाहर जाना है तो ठीक से पता कर लें। किसानों के दिल्ली कूच के चलते लोगों को 25, 26 व 27 नवंबर को आवागमन में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। हरियाणा सरकार ने इन तीन दिनों तक राज्‍य की अन्‍य प्रदेशों से लगती सीमाओं को सील करने का फैसला किया है। ऐसे में हरियाणा सरकार व पुलिस ने ट्रैवल एडवाजरी (Travel advisory) जारी की है।

हरियाणा पुलिस ने जारी की ट्रेवल एडवाइजरी
हरियाणा सरकार ने देर शाम यात्रियों की सुविधा के लिए ट्रैवल एडवाइजरी (यात्रा सलाह) जारी की। इसके आधार पर विभिन्न रूट बदले गए हैं, ताकि हरियाणा में आने वाले और हरियाणा से बाहर जाने वाले लोगों को किसी परेशानी का सामना न करना पड़े। 25 व 26 नवंबर को सडक़ द्वारा पंजाब से हरियाणा में प्रवेश करने वाले तथा 26 व 27 नवंबर को हरियाणा से दिल्ली में प्रवेश करने वाले स्थानों पर यातायात बाधित होने की सूचनाएं हैं।

हरियाणा के एडीजीपी (कानून व्यवस्था) नवदीप सिंह विर्क के अनुसार किसानों के आंदोलन के मद्देनर कानून व्यवस्था, यातायात और सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए व्यापक प्रबंध किए गए हैं। पुलिस को मिली सूचनाओं के अनुसार दिल्ली जाने के लिए बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारियों द्वारा विभिन्न बार्डर प्वाइंट्स से होते हुए पंजाब से हरियाणा में प्रवेश करने की संभावना है। इसके अलावा, हरियाणा से दिल्ली जाने वाले प्रदर्शनकारियों का मुख्य फोकस चार प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग अंबाला से दिल्ली, हिसार से दिल्ली, रेवाड़ी से दिल्ली और पलवल से दिल्ली होंगे।

राष्ट्रीय राजमार्गों पर बाधित रहेगा यातायात
नवदीप विर्क के अनुसार अंबाला जिला के शंभू बार्डर, भिवानी जिले के गांव मुढ़ाल चौक, करनाल जिले की घरौंडा अनाज मंडी,  झज्जर जिले के बहादुरगढ़ में टिकरी बार्डर तथा सोनीपत जिले के राई राजीव गांधी एजुकेशन सिटी में भी प्रदर्शनकारियों के एकत्र होने की संभावना है। यह भी संभव है कि पुलिस पंचकूला, अंबाला, कैथल, जींद, फतेहाबाद और सिरसा जिलों में सडक़ों के माध्यम से पंजाब से हरियाणा में प्रवेश करने वाले बार्डर प्वाइंटस पर 25, 26 और 27 नवंबर को यातायात को मोड़ सकती है।

उन्‍होंने बताया कि इसी प्रकार, दिल्ली की ओर जाने वाले चार प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्गों यानी अंबाला से दिल्ली, हिसार से दिल्ली, रेवाड़ी से दिल्ली और पलवल से दिल्ली की तरफ भी अंबाला जिले के शंभू बार्डर, भिवानी जिले के गांव मुढ़ाल चौक, करनाल जिले की घरौंडा अनाज मंडी, झज्जर जिले के बहादुरगढ़ में टिकरी बार्डर तथा सोनीपत जिले के राई राजीव गांधी एजुकेशन सिटी से यातायात को मोड़ा जा सकता है या सड़क को अवरुद्ध किया जा सकता है। किसी भी असुविधा से बचने के लिए लोगों को अपनी यात्रा कार्यक्रम में बदलाव कर लेना चाहिए।

support media swaraj

Related Articles

Back to top button