कर्नाटक में ‘प्लास्टिक कचरे’ को रीसाइकल कर मकान किया तैयार

दुनियाभर में कई अनोखे काम होते रहते हैं। ऐसे में आज हम आपको एक ऐसे अनोखे काम के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में जानने के बाद आपको हैरानी होगी। जी दरअसल हम बात कर रहे हैं कर्नाटक की। यहाँ ‘प्लास्टिक कचरे’ को रीसाइकल कर मकान तैयार किया गया है।

सुनकर आप हैरान हो गए ना लेकिन यह सच है। जी दरअसल बताया जा रहा है इस घर का निर्माण मेंगलुरु में एक अपशिष्ट संग्राहक ने ‘प्लास्टिक फॉर चेंज इंडिया फ़ाउंडेशन’ के सहयोग से किया है।

आपको बता दें कि यह फ़ाउंडेशन कर्नाटक के तटीय क्षेत्र में अनौपचारिक कचरा बीनने वालों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए कार्य में लगा हुआ है। वहीं लाभार्थियों में से एक कमला है जिनका घर बनने की लागत क़रीब 4।5 लाख बताई जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार इस घर को एक इनोवेटिव और पर्यावरण की दृष्टि से टिकाऊ परियोजना के उदाहरण के रूप में बनाया गया है। इसको कम लगत पर बनाया जा सकता है।

इसके अलावा इस घर को बनाने के लिए मुश्किल से रीसाइकिल होने वाले कचरे का यूज़ कर सकते हैं। मिली जानकारी के तहत इस घर बनाने से पहले निर्माण सामग्री की गुणवत्ता और उसकी मज़बूती का भी टेस्ट किया गया था, जिससे कि लंबे वक़्त तक घर टिका रह सके। कहा जा रहा है दूसरे चरण में साल 2021 में कचरा बीनने वालों के लिए 20 घर बनाने की उम्मीद की जा रही है जिसमें 20 टन प्लास्टिक का उपयोग किया जाएगा।

support media swaraj

Related Articles

Back to top button